ब्रेकिंग न्यूज़
  • जम्मू कश्मीर के पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान जैश का आतंकी ढेर
  • Delhi Air Pollution: दिल्ली में वायु प्रदूषण से मिली थोड़ी राहत, AQI में आई थोड़ी सी गिरावट
  • Breaking: गोवा में MiG-29K फाइटर एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
  • भीमा कोरेगांव विवाद: पुणे कोर्ट से सभी आरोपियों को दिया बड़ा झटका, जमानत याचिका की खारिज
  • भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण

खबरें अब तक

  • माँ घटारानी विकास समिति ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया 1 लाख रुपए

    माँ घटारानी विकास समिति ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया 1 लाख रुपए

    गरियाबंद: भारत में कोरोनावायरस को रोकने के लिए सरकार ही नहीं तमाम एनजीओ, फिल्म स्टार, उद्योगपति, क्रिकेटर और मंदिरों द्वारा भी प्रधानमंत्री केयर्स फंड में अपना सहियोग कर रहे हैं। इस कड़ी में देश के कुछ आम लोग भी हैं, सब अपनी-अपनी सहूलियत के हिसाब से पीएम केयर्स में दान की राशि दे रहे हैं।

    इस जंग में नेता-मंत्री, जनप्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, सामाजिक समितियां मुख्यमंत्री सहायता कोष में मनी डोनेट करने के लिए आगे आ रहे है। इस कड़ी में आज माँ घटारानी विकास समिति ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में 1 लाख रुपए का दान दिया है। माँ घटारानी विकास समिति ने 1 लाख रुपए का चेक कलेक्टर के पास जमा कर दिया है।

    और भी...

  • एक शख्स ने पीएम केयर्स फंड में दान किये 501 रुपए, PM ने ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा ये

    एक शख्स ने पीएम केयर्स फंड में दान किये 501 रुपए, PM ने ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा ये

    Coronavirus: भारत में कोरोनावायरस की रोकने के लिए सरकार ही नहीं तमाम एनजीओ, फिल्म स्टार, उद्योगपति, क्रिकेटर भी प्रधानमंत्री केयर्स फंड में अपना सहियोग कर रहे हैं। इस कड़ी में देश के कुछ आम लोग भी हैं, सब अपनी-अपनी सहूलियत के हिसाब से पीएम केयर्स में दान की राशि दे रहे हैं।

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टि्वटर हैंडल पर एक सैय्यद अताउर रहमान नाम के शख्स ने पीएम केयर्स फंड में 501 रुपए दान किये हैं। साथ ही एक दान की पर्ची भी शेयर की है।

    जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैयद के ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा और उनके साथ ही तारीफ की उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा कि कुछ भी बड़ा या छोटा नहीं होता हर व्यक्ति का अपना एक दान का महत्व होता है और वह दान का महत्व रखता है यह दिखाता है कि हम किस तरह सामूहिक प्रयास के लिए तैयार हैं कोशिश लगातार कर रहे हैं और इस महामारी को हम सभी मिलकर हरा सकते हैं।

    आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना वायरस के चलते भारत में अब तक 1050 मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें से 26 लोगों की मौत ताजा अपडेट के मुताबिक हो चुकी है और इसमें से 70 लोग कोरोना से गंभीर बीमारी से ठीक भी हो चुके हैं और अस्पताल से छुट्टी भी मिल चुकी है।

    और भी...

  • Lockdown: अगर जरुरी काम से जाना है बहार तो जरुर साथ रखें कर्फ्यू पास, जानिए क्या है कर्फ्यू पास

    Lockdown: अगर जरुरी काम से जाना है बहार तो जरुर साथ रखें कर्फ्यू पास, जानिए क्या है कर्फ्यू पास

    Coronavirus Lockdown: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तहलका मचा रखा है। यह वायरस दुनिया के कई देशों में फैल चूका है। लेकिन अगर हम भारत की बात करें तो इसकी चपेट में आने वालों की गिनती लगातार बढ़ती ही जा रही है। जो अबतक बढ़कर 1040 तक पहुंच गई है। जिसमें से 26 लोगों की मौत हो चुकी है। 

    इस खतरनाक कोरोना वायरस के आंतक को देखते हुए पूरे देश में 14 अप्रेल तक लॉकडाउन किया गया है। इस लॉकडाउन के दौरान लोगों को बाहर निकलना सख्त मना है और लोगों को रोकने के लिए सरकार काफी सख्ती दिखा रही है। लोगों को होने वाली परेशानियां देखते हुए जरूरी काम से बाहर निकलने के लिए कर्फ्यू पास की सुविधा दिया जा रहा है। इसी बीच आज हम कर्फ्यू पास क्या है और इससे जुड़ी तमाम जानकारी बताने जा रहे हैं।

    कर्फ्यू पास क्या है

    कर्फ्यू पास एक तरह का प्रमाण पत्र है। जिसे सरकार की तरफ से जारी किया जाता है। इस पास के जरिए लोगों को लॉकडाउन या कर्फ्यू के समय में आवाजाही पर छूट मिलती है।

    कहां से मिलेगा कर्फ्यू पास

    • गुरुग्राम-मानेसर के लिए - दक्षिण-पश्चिम डीसीपी के कार्यालय से मिलेगा पास

    • फरीदाबाद के लिए - दक्षिण-पूर्व डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • सोनीपत के लिए आउटर - नॉर्थ डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • बहादुरगढ़ और झज्जर के लिए - बाहरी दिल्ली डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • गाजियाबाद के लिए - शाहदरा डीसीपी कार्यालय से मिलेगा कर्फ्यू पास

    नोएडा के लिए - पूर्वी डीसीपी कार्यालय से मिलेगा कर्फ्यू पास

    कर्फ्यू पास से किसे है छूट

    • दवाई और चिकित्सा उपकरण, खाद्य पदार्थ, किराना दुकानें, दूध, ब्रेड, फल, सब्जियों, अंडे, मांस, मछली की दुकानें और उनके लिए परिवहन सेवा

    • जीवनाश्यक वस्तुओं और कृषि वस्तुओं-उत्पादों के लिए परिवहन सेवाएं

    • अस्पताल, फार्मेसी व ऑप्टिकल दुकानें, फार्मास्यूटिकल्स कंपनियां और उनके डीलरों के लिए परिवहन सेवाएं 

    • ई-कॉमर्स, पेट्रोल पंप, एलपीजी गैस, तेल एजेंसियां, होम डिलिवरी सुविधा वाले रेस्तरां

    • बैंक, एटीएम, इंश्योरेंस और संबंधित गतिविधियां

    • प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया

    • आईटी और दूरसंचार, डाक

    • इंटरनेट और डाटा सेवाएं

    दिल्ली पुलिस की वेबसाइट से भी ले सकते हैं पास

    इसके लिए आप दिल्ली पुलिस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर पास के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

    और भी...

  • सामाजिक कार्यकर्ता ने उठाया बेसहारा लोगों की मदद का जिम्मा, ऐसे किया मदद

    सामाजिक कार्यकर्ता ने उठाया बेसहारा लोगों की मदद का जिम्मा, ऐसे किया मदद

    लोरमी। कोरोना की रोकथाम के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन कर दिया गया है। इस लॉक डाउन की वजह से होने वाली परेशानियों को देखते हुए मुंगेली जिले के लोरमी से सामाजिक कार्यकर्ता आगे आये है। इन लोगों ने बेसहारा और जरूरतमंद लोगों की मदद का बीड़ा उठाया है। मां शारदा दुग्ध सहकारी समिति द्वारा निशुल्क जरूरतमंदों को दुग्ध वितरण किया जा रहा है।

    लोरमी विधायक धर्मजीत व जनता कांग्रेस जोगी पार्टी समर्थकों द्वारा मजबूर व असहाय लोगों को भोजन व उनके जरूरत की सामाग्री दी जा रही है। इसके अलावा एसडीएम रुचि शर्मा द्वारा बनाई गई टीम द्वारा लोरमी में सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है, जिसमें कालाबाजारी को रोकने दुकानों के बाहर रेट लिस्ट चस्पा करना, आमजन अपने घर पर रहे जिसके लिए जरूरी सामान उनके घरों तक पहुंचाना जैसी प्रशासन की हर संभव मदद इन वालेंटियर्स द्वारा की जा रही है।

    आपको बता दें की लोरमी में लॉक डाउन के दौरान लोगो को परेशानियों का सामना न करना पड़े, जिसके लिए लोरमी के वालेंटियर गरीब और असहाय लोगों कई मदद कर रहे हैं। वहीं कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और सुरक्षा के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष लेखनी सोनू चंद्राकर अपने 2 माह का फरवरी और मार्च का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोश मे जमा करने का निर्णय लिया है।

    यह राशि कोरोनावायरस के रोकथाम हेतु स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सुरक्षा क्षेत्र में जुड़े अधिकारी एवं कर्मचारी सफाई कर्मचारी स्वयं सेवा संस्थान आपातकालीन सेवा में जुड़े सेवाओं के लिए दी गई है। वहीं प्रकाश वैष्णव युवा कांग्रेस अध्यक्ष के द्वारा 10,000 रुपए व नगर के वार्ड क्रमांक 7 निवासी रिटायर्ड शिक्षक अज़गर अली के द्वारा 20,000 मुख्यमंत्री सहायता कोष में प्रदान किया गया।

    और भी...

  • Coronavirus: पुलिस का जागरूकता वीडियो सोशल मीडिया में वायरल, खूब सुर्खियां बटोर रहा वीडियो

    Coronavirus: पुलिस का जागरूकता वीडियो सोशल मीडिया में वायरल, खूब सुर्खियां बटोर रहा वीडियो

    बिलासपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण और महामारी से लोगों को बचाने के लिए पुलिस और डॉक्टर्स लगातार प्रयास कर रहे है। इसी बीच बिलासपुर पुलिस का एक जागरूकता वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। यह वीडियो खूब सुर्खियां भी बटोर रहा है। 

    आपको बता दें की बिलासपुर पुलिस में प्रशिक्षु डीएसपी ललिता मेहर इन दिनों कोतवाली थाने में बतौर ट्रेनी अधिकारी पदस्थ है। उन्होंने विडियो में कोरोना वायरस से लड़ने और उसे खुद से दूर रखने के लिए जम्स को पास ना भटकने देने की अपील की है। 

    इस वीडियो में सिटी कोतवाली थाना के पुलिसकर्मी भी नज़र आ रहें हैं। इस वीडियो में प्रशिक्षु ललिता मेहर हाथ में सूचक तख्ती रखी हुई नज़र आ रही है, जिसमें सन्देश लिखा हुआ है कि "हमारे भी घर परिवार है, लेकिन हम घर नहीं जा सकते" क्योंकि हमारी जवाबदारी है कि जब आप घर में है तो हमे आपकी सुरक्षा करना है। और हम हर कीमत पर आपका ख्याल बेहतर रखेंगे। अगर आप हमारी मदद करना चाहते है तो कृपया आप अपने घर पर ही रहें। यही आपका हमारे लिए सहयोग होगा। लेकिन घर में रहने के दौरान भी आप अपने हाथों को बार बार धोते रहें। इससे हम हर हाल में कोरोना से जंग लड़ने में सफल होंगे।

    इस संबंध में प्रशिक्षु डीएसपी ललिता मेहर का कहना है कि-

    'इस मैसेज के पीछे हमारा उद्देश्य है कि लोग हमारे वीडियों को ना सिर्फ कमेन्ट और शेयर करे, बल्कि उस संदेश को अपने दिनचर्या में अमलीजामा पहनाएं। इससे ही हमारे वीडियो की सार्थकता होगी।

    और भी...

  • LockDown : गर्भपीड़ा से तड़प रही थी महिला, पुलिस के जवान और स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पहुंचाया अस्पताल

    LockDown : गर्भपीड़ा से तड़प रही थी महिला, पुलिस के जवान और स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पहुंचाया अस्पताल

    कवर्धा। छग के कुकदूर थाना क्षेत्र के पुटपुटा से एक मामला सामने आया है। सुदूर वनांचल के ग्राम छिंदीडीह में बैगा जनजाति की एक महिला गर्भवती थी और कल रात वह गर्भपीड़ा से तड़प रही थी। जानकारी मिलने पर पुलिस के जवान और स्वास्थ्य कर्मचारियों ने उसे अस्पताल पहुंचाया।

    आपको बता दें कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए गांव को सील किया गया था। लॉकडाउन के चलते आधी रात को एम्बुलेंस एक जगह पर फंस गया था। इस एम्बुलेंस से गर्भवती महिला को अस्पताल ले जाया जा रहा था।

    इसी दौरान सड़क पर पेड़ काटकर रास्ता बाधित कर दिया गया था, जिसकी वजह से पुलिस के जवान और स्वास्थ्य कर्मचारियों को अस्पताल पहुंचाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। जवानों की सूझबूझ और समझदारी से गर्भवती महिला की जान बचाई। 

    और भी...

  • किराएदार नर्स को भगाने के मामले में मालिक दंपति के खिलाफ केस दर्ज, लगाया कोरोनावायरस फैलाने का आरोप

    किराएदार नर्स को भगाने के मामले में मालिक दंपति के खिलाफ केस दर्ज, लगाया कोरोनावायरस फैलाने का आरोप

    बिलासपुर। छग बिलासपुर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में किराएदार नर्स को घर से भगाने का मामला आया है। जहां भारतीय नगर निवासी कमल बंजारे ने निजी अस्पताल के नर्स सुमन कश्यप को घर से भगा दिया था। पीड़िता नर्स की रिपोर्ट पर पुलिस ने मकान मालिक दंपति कमल व सरिता के खिलाफ धारा 341, 188 महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है।

    आपको बता दें की किराएदार नर्स को भगाने वाले मकान मालिक दंपति के खिलाफ पुलिस ने जुर्म दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि मकान मालिक कोरोना संक्रमण फैलाने का आरोप लगाकर किराएदार नर्स को भगा रहे थे। फिलहाल पुलिस आगे की जाँच में जुटी हुई है।

    और भी...

  • अभनपुर में फंसे अहमदाबाद से आये 94 श्रद्धालु, सीएम की पत्नी ने बांटा मास्क, एंटीसेप्टिक साबुन और दूध

    अभनपुर में फंसे अहमदाबाद से आये 94 श्रद्धालु, सीएम की पत्नी ने बांटा मास्क, एंटीसेप्टिक साबुन और दूध

    रायपुर। कोरोना के संक्रमण के कारण देशव्यापी लॉगडाउन के चलते चंपारण अभनपुर में गुजरात के राजधानी अहमदाबाद से आये तकरीबन 94 श्रद्धालु फंसे हुए हैं, जिनमें महिलाओं की संख्या ज्यादा है।

    जब इसकी जानकारी सीएम भूपेश बघेल की पत्नी मुक्तेश्वरी बघेल को लगी तो उन्होंने वहां पर कपड़े से बने 200 मास्क, 100 से अधिक एंटीसेप्टिक साबुन और दूध के पैकेट की व्यवस्था करवाई। इसके अलावा वहां रुके सभी श्रद्धालुओं से शांति बनाने की अपील की और कहा कि- 'उनके दवा एवं अन्य रोजमर्रा के सामग्रियों की व्यवस्था करवाई जाएगी।'

    छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि- 'मुक्तेश्वरी बघेल की दरियादिली और सहयोग को देखकर गुजरात से आए श्रद्धालुओं की आंखों में आंसू आ गये और उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके धर्मपत्नी के कार्यों की भूरी-भूरी प्रशंसा की और कहा कि हजारों किलोमीटर दूर छत्तीसगढ़ प्रदेश में अपनेपन का अहसास हो रहा है।'

    और भी...

  • स्थानीय सुदर्शन समाज द्वारा सराहनीय पहल, स्वदेशी सेनेटाइजर बनाकर पूरे मुहल्ले में किया छिड़काव

    स्थानीय सुदर्शन समाज द्वारा सराहनीय पहल, स्वदेशी सेनेटाइजर बनाकर पूरे मुहल्ले में किया छिड़काव

    जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में कोरोना से लड़ने के लिए स्थानीय सुदर्शन समाज ने एक सराहनीय पहल की है। सुदर्शन समाज ने स्वदेशी सेनेटाइजर बनाया है। समाज के जागरुक प्रतिनिधि लोगों को घरों में ही रहने, बाहर ना निकलने की अपील कर रहे हैं।

    जानकारी मिली है कि लालमाटी कछियाना इलाके में सुदर्शन समाज के द्वारा स्वदेशी सेनेटाइजर का उपयाेग किया जा रहा है। उन्होंने इसे नीलगिरी, तुलसी, फिटकरी, कपूर और नीम के पत्तों से बनाया है।

    सुदर्शन समाज के युवा इस देशी सेनेटाइजर का पूरे मुहल्ले में छिड़काव कर रहे हैं। वे गांवों में लोगों को अपने घरों में रहने और घर से बिल्कुल भी ना निकलने की अपील भी कर रहे हैं।

    और भी...

  • Lock-Down: बढ़ती कालाबाजारी पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, किराना दुकान पर 5हजार रुपये का जुर्माना

    Lock-Down: बढ़ती कालाबाजारी पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, किराना दुकान पर 5हजार रुपये का जुर्माना

    दंतेवाड़ा। सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देख कर देशभर में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। दंतेवाडा जिले में लॉकडाउन के बीच बढ़ती सूदखोरी और कालाबाज़ारी पर अब प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

    कलेक्टर ने जिले भर में सूचना के आधार पर अधिक दाम पर सामान बेचने पर दुकानदारों पर कार्रवाई के आदेश जारी कर दिये हैं। इसी कड़ी में दंतेवाड़ा के एसडीएम लिंगराज सिदार ने सपना किराना दुकान पर 5000 रुपये का जुर्माना लगाया है। दुकानदार पर लहसुन को निर्धारित दाम से अधिक दाम में बेचने पर कार्रवाई की गई है। 

    बताया जा रहा है की दुकानदार प्रति किलो निर्धारित दाम से 40 रुपये ज्यादा में बेच रहा था, जिसकी शिकायत प्रशासन को मिली थी। उसके बाद ही दंतेवाड़ा कलेक्टर के आदेश पर एसडीएम और दंतेवाड़ा टीआई ने टीम बनाकर दुकान पर दबिश देकर कार्रवाई की साथ ही समझाईश भी दी।

    और भी...

  • राजधानी में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज, छत्तीसगढ़ में मरीजों की कुल संख्या पहुंची 7

    राजधानी में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज, छत्तीसगढ़ में मरीजों की कुल संख्या पहुंची 7

    रायपुर। देश भर में कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। वहीं कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ की राजधानी में नया कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आया है।

    अब तक प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6 थी। लेकीन आज रायपुर में 1 और मरीज मिला है और अब मरीजों की संख्या बढ़कर 4 हो गई है और प्रदेश में कोरना के कुल 7 मरीज हो गये हैं। बताया जा रहा है कि पीड़ित विदेश से आया है।

    और भी...

  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फेसबुक लाइव कार्यक्रम में तबदीली, 29 मार्च की शाम करेंगे चर्चा

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फेसबुक लाइव कार्यक्रम में तबदीली, 29 मार्च की शाम करेंगे चर्चा

    भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फेसबुक लाइव कार्यक्रम में परिवर्तन कर दिया गया है। बता दें की सीएम आज शनिवार को फेसबुक पर प्रदेश की जनता से जुड़कर कोरोना वायरस के संक्रमण से आम जन को आ रही समस्याओं को जानेंगे और उसके निराकरण के संबंध में दिशा निर्देश देने वाले थे। 

    लेकिन अब 29 मार्च को शाम 5:30 बजे फेसबुक पर सीएम शिवराज कोरोना से बचाव के संबंध में प्रदेशवासियों से चर्चा करेंगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान कल रविवार को देश की जनता से जुड़कर कोरोना वायरस के संक्रमण से आम जन को आ रही समस्याओं को जानेंगे और उसके निराकरण के संबंध में दिशा निर्देश देंगे और सरकार के प्रयासों से जनता को अवगत कराएंगे।

    और भी...

  • सेल्फ आइसोलेट हुए पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव, 20 मार्च को CM हाउस में हुए प्रेसवार्ता में थे शामिल

    सेल्फ आइसोलेट हुए पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव, 20 मार्च को CM हाउस में हुए प्रेसवार्ता में थे शामिल

    भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव ने खुद को सेल्फ आइसोलेट में रख लिया है, इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी।

    आपको बता दें कि सचिन यादव 20 मार्च को सीएम हाउस में आयोजित प्रेसवार्ता में शामिल हुए थे। वहीं उन्होंने सभी मीडिया के साथियों का अपना ख्याल रखने का भी अनुरोध किया है और सरकार के सभी निर्देशों का पालन कर रहे हैं।

    उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि- '20 मार्च को कमलनाथ की आयोजित प्रेसवार्ता में मौजूद एक पत्रकार साथी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, इसीलिए सावधानी के तौर पर मैं सेल्फ़-आइसोलेशन में हूँ एवं पत्रकार साथियों से भी अनुरोध है अपना ख्याल रखें। मैं सरकार के सभी आवश्यक निर्देशों का पालन कर रहा हूँ और आप भी करें।'

    और भी...

  • Lock-Down : बनारस में मां की मौत, रायपुर से पैदल निकल पड़ा बेटा

    Lock-Down : बनारस में मां की मौत, रायपुर से पैदल निकल पड़ा बेटा

    रायपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए देशभर में लॉकडाउन है। इस लॉकडाउन के कारण लोग अपने घरों में बंद हैं। कई लोग दुसरें शहरों में भी फंस गए हैं। कई अपने प्रदेश में लौट नहीं पा रहे, यातायात की सुविधा बंद है। 

    रोजगार बंद होने की वजह से पैदल ही सैंकड़ों किलोमीटर की यात्रा तय कर अपने घरों की तरफ लौटने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे ही एक शख़्स की मां का निधन बनारस में हो गया है। उस शख़्स को इस बात कि खबर मिलते ही वह पैदल रायपुर से बनारस के लिए निकल पड़ा।

    आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के मुरकीम की मां का निधन 25 मार्च को हो गया। मुरकीम की मां की निधन वाराणसी में हुआ है। मां के देहांत की खबर मिलने के बाद मुरकीम अपने दो दोस्तों विवेक और प्रवीण के साथ पैदल ही रायपुर से वाराणसी के लिए निकल पड़ा। मुराकीम और उसके दोस्त बैकंठपुर तीन दिनों में पहुंचे हैं।

    मुराकीम के एक दोस्त ने बताया कि,'' हमने 20 किलोमिटर का सफर तय किया है। इस बीच हमने कई लोगों से लिफ्ट भी लिया था। जब हम बैकुंठपुर पहुंचे तो वहां एक दवाई दुकानदार ने हमारी मदद की। बता दें कि कोरोना के चलते अब तक 833 मामले सामने आए हैं। इनमें से 90 का इलाज जारी है और 19 की मौत हो चुकी है।

    और भी...