ब्रेकिंग न्यूज़
  • Ayodhya Verdict Live: 15 दिनों के अंदर होगी सुन्नी बोर्ड की बैठक, रामलला के मुख्य पुजारी के घर की सु
  • भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण
  • जम्मू कश्मीर के पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान जैश का आतंकी ढेर
  • महाराष्ट्र: राफेल पर राहुल गांधी से माफी मांगने को लेकर मुंबई में भाजपा का विरोध प्रदर्शन
  • Subhash Chandra Bose Jayanti : राष्ट्रपति से लेकर पीएम तक ने नेताजी को किया याद, ट्वीट कर शेयर किया
  • Breaking: गोवा में MiG-29K फाइटर एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
  • Delhi Air Pollution: दिल्ली में वायु प्रदूषण से मिली थोड़ी राहत, AQI में आई थोड़ी सी गिरावट

खबरें अब तक

  • शरजील इमाम जहानाबाद से गिरफ्तार, ये दिया था विवादित बयान

    शरजील इमाम जहानाबाद से गिरफ्तार, ये दिया था विवादित बयान

    दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र शरजील इमाम को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया है। इससे पहले दिल्ली पुलिस बीते कई दिनों से शरजील की तलाश में सर्च ऑपरेशन चला रही थी। शरजील इमाम की तलाश में पुलिस कई प्रदेशों में तलाशी कर रही थी। शरजील इमाम पर देश विरोधी नारे लगाने का आरोप है।

    शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमे वो उत्तर भारत के शहरों को पूरे भारत से अलग करने की बात कह रहा था। इसके बाद पुलिस ने उसके खिलाफ देश विरोधी नारे लगाने का मुकदमा दर्ज किया था।

    शरजील इमाम पर यह भी आरोप लग रहे हैं कि शरजील ही शाहीन बाग प्रोटेस्ट और बिहार के ताज रेस्ट हाउस प्रोटेस्ट के पीछे हैं क्योंकि वो इन प्रोटेस्ट के बारे में विस्तार से सोशल मीडिया पर लिखता है। इमाम कंप्यूटर साइंस का स्टूडेंट रहा है। शाहीन बाग में दिए देश विरोधी बयान के बाद से ही पुलिस इमाम की तलाशबीन कर रही थी। मंगलवार को दिल्ली पुलिस ने शरजील इमाम को गिरफ्तार कर लिया है।

    और भी...

  • निर्भया गैंगरेप केस : दोषी मुकेश का बड़ा आरोप, बोला मेरे साथ जेल में हुआ यौन उत्पीड़न

    निर्भया गैंगरेप केस : दोषी मुकेश का बड़ा आरोप, बोला मेरे साथ जेल में हुआ यौन उत्पीड़न

    Nirbhaya Gang Rape Case : निर्भया गैंगरेप केस मामले में चारों दोषियों को मौत की सजा सुना दी गई है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के द्वारा खारिज की गई दया याचिका के खिलाफ दोषी मुकेश सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की।

    सुप्रीम कोर्ट में आज तीन जजों की बेंच दोषी मुकेश सिंह की याचिका पर सुनवाई की। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट में वकील अंजना प्रकाश दोषी मुकेश को ओर से दलील रखी। इस दौरान वकील ने कहा कि जेल में मुकेश का यौन उत्पीड़न हुआ था। उस समय प्रिजन ऑफिसर वहां थे, लेकिन उन्होंने सहायता नहीं की।

    मुकेश को उस दौरान अस्पताल लेकर जाया गया। बाद में मुकेश को दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल ले जाया गया। मुकेश की वकील ने कहा वो मेडिकल रिपोर्ट कहां है? इसके साथ ही मुकेश की तरफ से उनकी वकील ने कहा कि उसके भाई राम सिंह की हत्या कर दी गई।

    जबकि जेल अधिकारी का कहना है कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की, लेकिन उसका एक हाथ खराब था। वो खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कैसे कर सकता है। दोषी मुकेश का कहना है कि मैं एफआईआर दर्ज कराना चाहता था।

    मुकेश की वकील ने तिहाड़ जेल प्रशासन पर बड़ा आरोप भी लगाया। मुकेश की वकील ने कहा कि उसकी क्यूरेटिव याचिका खारिज होने से पहले ही उसे एकांत कारावास में रखा गया था।

    दोषी पवन के पिता की याचिका हो चकी है खारिज

    बता दें कि इससे पहले अदालत ने दोषी पवन के पिता की याचिका को खारिज कर दिया था। पवन के पिता ने कोर्ट में याचिका दाखिल कर इकलौते गवाह की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया गया था।

    दोषियों को एक फरवरी को होगी फांसी

    बता दें कि कोर्ट के द्वारा चारों दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया जा चुका है। दोषियों को एक फरवरी को दिल्ली की तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी। सभी दोषी फांसी की सजा को टालने के लिए एक-एक कर कोर्ट में कोई न कोई याचिका दाखिल कर रहे हैं।

    और भी...

  • Big News : अपहृत बलदेव को नक्सलियों ने मार डाला, पत्नी ने लगाई थी छोड़ने गुहार

    Big News : अपहृत बलदेव को नक्सलियों ने मार डाला, पत्नी ने लगाई थी छोड़ने गुहार

    बीजापुर। नक्सलियों ने बीजापुर से अगवा किए गए पूर्व सहायक आरक्षक बलदेव ताती की हत्या कर दी है। उसका शव मंगलवार दोपहर सड़क पर पड़ा मिला। नक्सली सोमवार देर शाम बलदेव का अपहरण कर ले गए थे। इस दौरान उसकी पत्नी ने नक्सलियों से बलदेव को छोड़ने की गुहार लगाई थी, लेकिन नक्सलियों पर गुहार का कोई असर नहीं पड़ा और उन्होंने बलदेव को बुरी तरह मार डाला।

    गौरतलब है कि बीजापुर पुलिस के पूर्व सहायक आरक्षक बलदेव ताती सोमवार देर शाम घर लौट रहे थे। इसी दौरान बीजापुर-गंगालूर मार्ग पर 10-12 नक्सलियों ने उनका रास्ता रोक लिया और उन्हें पकड़ ले गए। देर रात बलदेव का अपहरण होने की सूचना मिली। आशंका जताई जा रही थी कि पुलिस मुखबिरी के संदेह में नक्सलियों ने बलदेव को अगवा किया है।

    बलदेव की पत्नी सुंदरी ताती सरपंच पद के लिए चुनाव लड़ रही हैं। नक्सलियों का नाम सामने आने के बाद उसने अपने पति को छोड़ देने की अपील भी की थी। इधर, मंगलवार को सूचना मिली कि नक्सलियों ने बलदेव की हत्या कर दी। उसका शव दोपहर करीब 12 बजे गंगलूर मार्ग के चेरकांटी के पास पड़ा मिला। एसपी दिव्यांग पटेल ने घटना की पुष्टि की है। इससे पहले भी पुलिस मुखबिरी के संदेह में नक्सली ग्रामीणों का अपहरण कर हत्या करते रहे हैं, लेकिन इस हत्या को लेकर यह आशंका भी व्यक्त की जा रही होगी कि पत्नी के चुनाव लड़ने के विरोध में नक्सलियों ने बलदेव की हत्या कर दी।

    और भी...

  • Global Potato Conclave 2020 : पीएम मोदी के भाषण की 10 अहम बातें

    Global Potato Conclave 2020 : पीएम मोदी के भाषण की 10 अहम बातें

    Global Potato Conclave 2020 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मंगलवार को तीसरे ग्लोबल पोटैटो कॉन्क्लेव (3rd Global Potato Conclave) को रिमोट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वैज्ञानिकों को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं शताब्दी में भी कोई भूखा और कुपोषित न रहे, इसकी भी एक बड़ी जिम्मेदारी आप सभी के कंधों पर है। चलिए जानतें हैं पीएम मोदी के भाषण की 10 अहम बातें..

    तीसरे ग्लोबल पोटैटो कॉन्क्लेव में पीएम मोदी के भाषण की 10 अहम बातें

    * पीएम मोदी ने कहा कि मुझे बताया गया है कि Global Potato Conclave में दुनिया के अनेक देशों से वैज्ञानिक आए हैं। हजारों किसान साथी और दूसरे Stakeholders भी जुटे हैं। अगले तीन दिनों में आप सभी पूरे विश्व के Food और Nutrition की डिमांड से जुड़े महत्वपूर्ण पहलुओं पर चर्चा करने वाली है।

    * इस Conclave की खास बात ये भी है कि यहां Potato Conference, AgriExpo और Potato Field Day, तीनों एक साथ हो रहे हैं। करीब 6000 किसान फील्ड डे के मौके पर खेतों में जाने वाले हैं। ये प्रशंसनीय प्रयास है। पहली बार ये Conclave दिल्ली से बाहर हो रहा है।

    * गुजरात में इस कॉन्क्लेव का होना इसलिए भी अहम है क्योंकि, ये राज्य Potato की Productivity के लिहाज से देश का पहले नंबर का राज्य है।

    * पूरे आलू के उत्पादन में 20 फीसदी की वृद्धि हुई है, गुजरात में यह 170 फीसदी बढ़ गया है। सिंचाई के लिए नीतिगत पहल, निर्णय और आधुनिक सुविधाएं गुणवत्ता और मात्रा दोनों में इस वृद्धि के पीछे कारण हैं।

    * साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को लेकर तेजी से कदम उठाए जा रहे हैं। किसानों के प्रयास और सरकार की पॉलिसी के कॉम्बिनेशन का ही परिणाम है कि अनेक अनाजों और दूसरे खाने के सामान के उत्पादन में भारत दुनिया के टॉप-3 देशों में है।

    * सरकार का प्रयास है कि खेती की लागत कम हो, किसान का खर्च कम हो, सरकार द्वारा शुरू की गई किसान सम्मान निधि से किसानों के अनेक खर्चो को पूरा करने की मदद मिली है।

    * इस महीने के शुरुआत में, एक साथ 6 करोड़ किसानों के बैंक खातों में, 12 हजार करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर करके एक नया रिकॉर्ड भी बनाया गया है।

    * किसान और उपभोक्ता के बीच के Layers और उपज की बर्बादी को कम करना हमारी प्राथमिकता है। इसके लिए परंपरागत कृषि को बढ़ावा दिया जा रहा है।

    * सरकार का जोर कृषि टेक्नॉलॉजी आधारित 'स्टार्ट अप्स' को प्रमोट करने पर भी है ताकि स्मार्ट और प्रिसिजन एग्रीकल्चर के लिए जरूरी किसानों के डेटाबेस और एग्री स्टैक का उपयोग किया जा सके।

    * हमें एक समय पर दालों की कमी थी, लेकिन हमारे किसानों ने पहल की और इस मुद्दे को हल किया।

    और भी...

  • Home Minister Amit Shah की अध्यक्षता में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक शुरू

    Home Minister Amit Shah की अध्यक्षता में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक शुरू

    रायपुर। केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक नवा रायपुर में शुरू हो गई है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष भूपेश बघेल, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित चारों राज्यों के मंत्रिगण, मुख्य सचिव और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी शामिल हुए

    मध्य क्षेत्रीय परिषद का गठन केन्द्र सरकार और परिषद में शामिल राज्यों के समन्वय से इन राज्यों में संतुलित सामाजिक-आर्थिक विकास के साथ अन्तर्राज्यीय समस्याओं को हल करने के उद्देश्य से एक उच्च स्तरीय सलाहकार मंच के रूप में किया गया है।

    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष हैं, इसलिए यह बैठक छत्तीसगढ़ में आयोजित की जा रही है। क्षेत्रीय परिषद में शामिल राज्यों के मुख्यमंत्री को रोटेशन में परिषद का उपाध्यक्ष बनाया जाता है, जिनका कार्यकाल एक वर्ष का होता है।

    और भी...

  • रायपुर पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह, सीएम भूपेश बघेल ने एयरपोर्ट में किया स्वागत

    रायपुर पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह, सीएम भूपेश बघेल ने एयरपोर्ट में किया स्वागत

    रायपुर। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आज सुबह रायपुर के स्वामी विवकानंद विमानतल पहुंचे। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उनकी अगवानी की। बता दें कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह अध्यक्षता में आज नया रायपुर में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक आयोजित की जा रही है। इस बैठक में मध्य क्षेत्रीय परिषद में छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री, मंत्रीगण, मुख्य सचिव और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी शामिल होंगे।

    मध्य क्षेत्रीय परिषद का गठन केन्द्र सरकार और परिषद में शामिल राज्यों के समन्वय से इन राज्यों में संतुलित सामाजिक-आर्थिक विकास के साथ अन्तर्राज्यीय समस्याओं को हल करने के उद्देश्य से एक उच्च स्तरीय सलाहकार मंच के रूप में किया गया है।

    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष हैं, इसलिए यह बैठक छत्तीसगढ़ में आयोजित की जा रही है। क्षेत्रीय परिषद में शामिल राज्यों के मुख्यमंत्री को रोटेशन में परिषद का उपाध्यक्ष बनाया जाता है, जिनका कार्यकाल एक वर्ष का होता है।

    और भी...

  • उज्जैन में मिला कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज, सरकार ने जारी किया अलर्ट

    उज्जैन में मिला कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज, सरकार ने जारी किया अलर्ट

    उज्जैन। चीन में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज मध्यप्रदेश के उज्जैन में मिलने से हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि में मिला कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज चीन के वुहान शहर में रहकर कर मेडिकल की पढ़ाई रहा था। कुछ दिन पूर्व ही वह उज्जैन अपने घर लौटा था। छात्र मां बेटे के खून के सेम्पल लेकर जांच हेतु पुणे लैब भेजा गया है। इसके साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है

    और भी...

  • पूजा भट्ट और नंदिता दास ने शाहीन बाद के प्रदर्शन का किया समर्थन किया, कहा- देख को बांट रहे नेता

    पूजा भट्ट और नंदिता दास ने शाहीन बाद के प्रदर्शन का किया समर्थन किया, कहा- देख को बांट रहे नेता

    नागरिकता संशोधित कानून (CAA), एनआरसी (NRC) और एनपीआर (NPR) के खिलाफ देश भर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों जारी है। इस कड़ी में मुंबई के कोलाबा में भी सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन देखने को मिला।

    दरअसल, परचम फाउंडेशन और वी द पीपल ऑफ महाराष्ट्र ने एक कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें कई हस्तियों को प्रदर्शन में शामिल होने का न्यौता दिया गया। इस कार्यक्रम में फिल्म मेकर और एक्ट्रेस पूजा भट्ट भी शामिल हुई।

    इस दौरान पूजा भट्ट ने लोगों को संबोधित किया। पूजा भट्ट ने कहा कि मैं अपने नेताओं से अपील करती हूं कि देश में उठ रही आवाजों को सुनें... शाहीन बाग, लखनऊ और भारत में कहीं भी... जब तक नहीं सुने जाते हैं तब तक नहीं रुकेंगे...

    पूजा भट्ट ने आगे कहा कि मैं लोगों से अपील करती हूं कि वो और ज्यादा बोलें... मैं सीएए और एनआरसी का विरोध करती हूं, क्योंकि ये मेरे घर को बांटता है, और जो चीज मेरे घर को बांटती है मैं उसे स्वीकार नहीं करती....

    उन्होंने कहा है कि 'हम सब औरतों के अन्दर एक मां है आपने उसको जगा दिया है.. आज पूरी दुनिया बोल रही है यूरोपियन संघ बोल रहा है, इकोनोमिक्स टाइम्स बोल रहा है, क्या सब झूठे हैं'..

    पूजा भट्ट ने आगे कहा कि बॉलीवुड में कहा जाता है सिर्फ कुछ लोग बोलते हैं मैं जानती हूं सब नहीं बोलते.. सब डरते हैं... अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि ये सरकार जान गयी है कि जनता क्या है... मैं मीडिया से विनती करती हूं घर में आग लगी है तो वो ज्यादा पेट्रोल न डालें...

    उन्होंने कहा कि सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों से हमें ये संदेश मिलता है कि अब आवाज उठाने का वक्त आ गया है। पूजा भट्ट ने कहा कि मतभेद देशभक्ति का सर्वश्रेष्ठ स्वरूप है,...

    पूजा भट्ट के अलावा, सीएए पर डायरेक्टर और एक्ट्रेस नंदिता दास ने भी अपना बयान दिया। दरअसल, नंदिता जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंची थीं, जहां उन्होंने नागरिकता कानून और शाहीन बाग पर कहा कि ये ऐसा कानून है जिसके जरिए आपसे भारतीय होने का सबूत मांगा जा रहा है।

    नंदिता दास ने कहा कि 'ये बिखराव वाला कानून है... देश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि लोगों को धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है। जो लोग चार पीढ़ियों से यहां हैं, आप उन्हें बता रहे हैं कि यह आपका देश नहीं है, यह बहुत परेशान करने वाला है। मेरा मानना है कि सभी को इस पर बोलना चाहिए। लोग बोल रहे हैं और सभी जगह विरोध हो रहा है। सीएए के खिलाफ ना सिर्फ पूजा भट्ट और नंदिता दास है बल्कि अनुराग कश्यप, अनुभव सिन्हा, स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू समेत कई बॉलीवुड सितारों ने विरोध कर रहे है।

    और भी...

  • गृहमंत्री अमित शाह आज पहुंचेंगे रायपुर, उप्र, मप्र, छग एवं उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों की होगी बैठक

    गृहमंत्री अमित शाह आज पहुंचेंगे रायपुर, उप्र, मप्र, छग एवं उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों की होगी बैठक

    रायपुर। मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22 वीं बैठक का आयोजन आज राजधानी रायपुर में किया जा रहा है। यह बैठक केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में होगी। एक दिवसीय बैठक आज सुबह 11 बजे से शुरू होगी। बैठक में उत्तर प्रदेश के सीएस योगी आदित्यनाथ, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उत्तराखंड के सीएम एवं इन राज्यों के दो-दो मंत्री, मुख्य सचिव तथा केन्द्रग और राज्य सरकारों के वरिष्ठ विभागीय अधिकारी शामिल होंगे।

    बैठक में सुरक्षा, उद्योग और ऊर्जा आदि से जुड़े मुद्दों पर केंद्र और राज्य सरकार के प्रतिनिधि अपने विचार एवं अनुभव साझा करेंगे। साथ ही प्रदेश की नक्सल समस्याओं पर भी गृहमंत्री के साथ चर्चा की जाएगी। आपको बता दं कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मध्य क्षेत्र परिषद के उपाध्यक्ष हैं। मध्य क्षेत्रीय परिषद की पिछली बैठक 24 सितंबर 2018 को लखनऊ में की गई थी। अनुमान लगाया जा रहा है कि बैठक में कांग्रेस मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, केंद्रीय गृहमंत्री से NRC ,CAA पर पुनर्विचार करने का आग्रह कर सकते है।

    और भी...

  • कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर महिला ने लगाए संगीन आरोप, कहा- जबरन दिखाते थे एडल्ट्स वीडियो

    कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर महिला ने लगाए संगीन आरोप, कहा- जबरन दिखाते थे एडल्ट्स वीडियो

    बॉलीवुड में मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर एक 33 वर्षीय युवती ने गंभीर आरोप लगाए हैं। युवती द्वारा की गई शिकायत में युवती ने बताया कि गणेश आचार्य उनको फिल्म इंडस्ट्री से बाहर करने की धमकियां देकर शोषण करने की कोशिश की है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि गणेश आचार्य उनको एडल्ट वीडियो जबरन दिखाते थे। जानकारी के मुताबिक, मुंबई में एक 33 साल की महिला कोरियोग्राफर ने राज्य महिला आयोग में गणेश आचार्य के खिलाफ शिकायत लिखवाई।

    इस शिकायत में महिला ने गणेश पर फिल्म इंडस्ट्री में काम करने से रोकने, कमीशन मांगने और जबरन एडल्ट वीडियो दिखाने का आरोप लगाया है। आपको बता दें कि मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन कोरियोग्राफर एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी हैं। कुछ दिन पहले महिला सीनियर कोरियोग्राफर सरोज खान ने भी गणेश आचार्य पर आरोप लगाए थे कि वो डांसर्स का शोषण करते हैं। सरोज खान ने आरोप लगाया था कि गणेश ऐसा सीडीए को बदनाम करने के लिए कर रहे हैं। 

    झूठ बोल रही है सरोज खान - गणेश आचार्य

    सरोज खान द्वारा लगाए गए आरोपों पर गणेश ने अपनी सफाई दी थी। गणेश ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज किया था, उनका कहना था कि सरोज जो भी बोल रही है झूठ बोल रही हैं।

    इस पर आचार्य का साथ देने के लिए भी कई लोग आए जिन्होंने कहा कि गणेश अपने शिष्यों की बहुत इज्जत करते हैं और उनको सम्मान भी देते हैं। एक शिष्य ने बताया कि गणेश आचार्य लोगों को रोजगार देने की कोशिश में हमेशा रहते हैं। गणेश ने कभी किसी डांसर के साथ भेदभाव नहीं किया।

    और भी...

  • त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान शुरू, सुबह से ही मतदाताओं की लंबी कतारें

    त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान शुरू, सुबह से ही मतदाताओं की लंबी कतारें

    रायपुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए धमतरी जिले के दो ब्लॉक के 202 ग्राम पंचायतों में 7 बजे से मतदान शुरू हो गया। मतदान केंद्रों की सुरक्षा के लिए 1000 पुलिस बल तैनात किया गया है। जिले में 8 जिला पंचायत, 50 जनपद, 202 सरपंच और 2984 पंच पदों के लिए मतदान किया जाएगा है।

    इसी तरह के कोरबा जिले के करतला और कोरबा ब्लॉक में प्रथम चरण के लिए मतदान किया जा रहा है। जिसके लिए 150 सरपंच 2235 पंच व 47 जनपद सदस्य प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा। करतला में कुल मतदाता 1,06,774 हैं। बूथ संख्या 224 है जिसमें संवेदनशील बूथ की संख्या 171 है। जबकि कोरबा में कुल मतदाता 1,02,434 हैं। कुल बूथ संख्या 263 है जिनमे संवेदनशील बूथ 191 हैं।

    देवभोग जिले के विकासखंडों में पहले चरण का मतदान शुरू हो गया है। मैनपुर ओर गरियाबंद विकासखण्ड में सुबह 7 बजे मतदान शुरू हुआ। जिसके लिए 296 मतदान केंद्रों पर 150560 मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे। सुबह से मतदान केंद्र के लोगों की भीड़ देखी जा रही है। जिला निर्वाचन ने तैयारियों के पुख्ता इंतजाम किए हैं।

    इसी तरह सुकमा ब्लॉक के नक्सली चेतावनी के बावजूद लोग मतदान के लिए बड़ी संख्या में पहुंच रहे है। नक्सलियों द्वारा इलाके में चुनाव में मतदान न करने की ग्रामीणों से अपील की थी। बावजूद लोकतंत्र पर विश्वास दिखाकर बड़ी संख्या में लोग मतदान केन्द्र पहुंच रहे हैं।

    और भी...

  • लोकसभा स्पीकर ने सीएए पर प्रस्ताव को लेकर यूरोपीय संसद के अध्यक्ष को लिखा पत्र, की ये अपील

    लोकसभा स्पीकर ने सीएए पर प्रस्ताव को लेकर यूरोपीय संसद के अध्यक्ष को लिखा पत्र, की ये अपील

    लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सोमवार को यूरोपीय संसद के अध्यक्ष डेविड मारिया सासोली को लिखा है, जिसमे नागरिकता संसोधन अधिनियम के प्रस्ताब पर पुनर्विचार की अपील की है। बिरला ने कहा कि एक विधायिका के लिए दूसरे पर निर्णय पारित करना अनुचित है क्योंकि अभ्यास का दुरुपयोग किया जा सकता है।

    उन्होनें पत्र में लिखा है कि मैं समझता हूं कि संयुक्त प्रस्ताव को भारतीय नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 पर यूरोपीय संसद में पेश किया गया है। यह अधिनियम उन लोगों के लिए आसान नागरिकता प्रदान करता है, जिन्हें हमारे निकटतम पड़ोस में धार्मिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा है। अंतर संसदीय संघ के सदस्यों के रूप में, हमें विशेष रूप से लोकतंत्रों में, साथी विधानसभाओं की संप्रभु प्रक्रियाओं का सम्मान करना चाहिए

    बिड़ला ने कहा कि एक विधायिका के लिए दूसरे पर निर्णय पारित करना अनुचित है, एक ऐसी प्रथा जिसका निश्चित रूप से निहित स्वार्थों से दुरुपयोग किया जा सकता है। मैं आपसे इस प्रकाश में प्रस्तावित प्रस्ताव पर विचार करने का आग्रह करूंगा, विश्वास है कि हम में से कोई भी अस्वस्थ मिसाल कायम नहीं करना चाहता है

    यूरोपीय संसद में पांच प्रमुख समूहों ने ऐसे प्रस्तावों को स्थानांतरित किया है, जो नागरिकता (संशोधन) अधिनियम को बदनाम करते हैं, जिनमें से दो में कहा गया है कि सीएए नागरिकता निर्धारित करने के तरीके में एक "खतरनाक बदलाव" को चिह्नित करता है और "सबसे बड़ा राज्य" में संकट पैदा करेगा।

    संकल्प, जो यूरोपीय संघ के सदस्य-राष्ट्रों के भारत के साथ जुड़ने के तरीके को प्रभावित कर सकते हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 13 मार्च को भारत-यूरोपीय संघ के शिखर सम्मेलन के लिए ब्रसेल्स की यात्रा करने से दो महीने पहले आते हैं।

    उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने भी भारतीय संसद और सरकार के दायरे में मामलों में विदेशी निकायों की मध्यस्थता की प्रवृत्ति पर आज चिंता व्यक्त की। नई दिल्ली में एक पुस्तक लॉन्च कार्यक्रम के दौरान एक सभा को संबोधित करते हुए, नायडू ने उम्मीद जताई कि भविष्य में विदेशी निकाय इस तरह के बयान देने से बचेंगे।

    और भी...

  • किसानों और जिला प्रशासन के बीच हिंसक झड़प, SDM गुंजा सिंह समेत कई पुलिसकर्मी घायल

    किसानों और जिला प्रशासन के बीच हिंसक झड़प, SDM गुंजा सिंह समेत कई पुलिसकर्मी घायल

    ग्रेटर नोएडा में आज जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित जमीन पर कब्जा करने गई जिला प्रशासन और किसानों के बीच हिंसक झड़प हो गई। जिसमें एसडीएम गुंजा सिंह के घायल होने की खबर है।

    समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक आज एसडीएम गुंजा सिंह के नेतृत्व में जमीन पर कब्ज़ा के लिए पहुंची टीम को किसानों ने कब्ज़ा देने से इनकार कर दिया। जिसके बाद टकराव की स्थिति बन गई।

    इसी दौरान किसानों ने जिला प्रशासन पर पथराव कर दिया। जिसमें एसडीएम गुंजा सिंह कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। घयलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है एसडीएम की गाड़ी पर पथराव के कारण शीशा टूट गया है। फिलहाल मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है।

    क्या है पूरा मामला

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ग्रेटर नोएडा में जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा निर्माण के लिए रोही गांव की जमीन भी अधिग्रहित हुई है। बढ़े मुआवजे की मांग को लेकर काफी समय से किसान यहां पर धरने पर बैठे हैं और मुआवजा बढ़ाने की लगातार मांग कर रहे हैं।

    किसानों ने लगाया ये आरोप

    किसनों का आरोप है कि जिला प्रशासन तानाशाही कर रहा है। जिला प्रशासन की तरफ से उनके हितों की अनदेखी की जा रही है। सोमवार को जिला प्रशासन ने जेवर एयरपोर्ट की जमीन पर कब्जा लेने का ऐलान किया था। उससे पहले एसडीएम के नेतृत्व में तहसीलदार समेत अन्य अधिकारी जमीन पर कब्जा करने के लिए पहुंचे थे।

    और भी...

  • कर्नाटक के पूर्व राज्य मंत्री और JDS के वरिष्ठ नेता अमरनाथ शेट्टी का निधन, जानें राजनीतिक सफरनामा

    कर्नाटक के पूर्व राज्य मंत्री और JDS के वरिष्ठ नेता अमरनाथ शेट्टी का निधन, जानें राजनीतिक सफरनामा

    कर्नाटक के पूर्व राज्य मंत्री और JDS के वरिष्ठ नेता अमरनाथ शेट्टी का आज मंगलुरु में निधन हो गया। वह कुछ दिनों से मंगलुरु के एजे अस्पताल में भर्ती थें, जहां सोमवार को उनकी मौत हो गई। वह 80 साल की उम्र में हमेशा के लिए लोगों को अलविदा कह गए। उनके निधन पर वहां के तमाम नेताओं ने गहरा शोक व्यक्त की है।

    अमराथ शेट्टी का राजनीतिक सफरनामा

    अमरनाथ शेट्टी 1965 में राजनीति में अपना पहला कदम रखा, जिससे करकला तालुक में पलाडका पंचायत के अध्यक्ष के रूप में उभर कर लोगों के बीच आए। इसके अलावा वह मुदबिद्री नगर पंचायत के चेयरमैन, तालुक मार्केटिंग सोसाइटी और करकला, सहकारी सेवा बैंक और दक्षिण कन्नड़ की जिला जनता पार्टी के अध्यक्ष भी रह चुके है।

    वहीं 1983 में उन्हें जेडीएस से टिकट दिया गया। जिसके आधार पर मुदबिद्री निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़कर कर्नाटक विधानसभा में पहली बार चुने गए। उन्होनें 1987 और 1994 में एक बार फिर मुदबिद्री निर्वाचन क्षेत्र से ही विधानसभा चुनावी मैदान में खड़े हुए, जहां लोगों ने उन्हे एक बार फिर से मौका दिया। इसके अलावा विधायक के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान उन्होनें कर्नाटक सरकार में पर्यटन और धार्मिक बंदोबस्त मंत्री के रूप में भी कार्य किया।

    और भी...

  • असम में 2,000 ट्रांसजेंडरों को NRC से रखा जा रहा बाहर, SC ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब

    असम में 2,000 ट्रांसजेंडरों को NRC से रखा जा रहा बाहर, SC ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब

    असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (NRC) की सूची से लगभग 2,000 ट्रांसजेंडरों को बाहर कर दिया गया है। जिसको लेकर दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा है। केंद्र सरकार के इस फैसले पर सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे की खंडपीठ ने कड़ी निंदा जाहिर जल्द ही जवाब मांगा है।

    आपको बता दें कि असम के पहले ट्रांसजेंडर जज स्वाति बिधान बरूआ के द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर दावा किया था कि नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स( NRC) के तहत लगभग 2,000 ट्रांसजेंडरों को बाहर किया जा रहा है। दाखिल याचिका के आधार पर सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश एसए बोबडे की खंडपीठ ने इस फैसले पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

    और भी...