ब्रेकिंग न्यूज़
  • शॉर्ट्स पहनकर केंद्र पर एग्जाम देने पहुंची छात्रा को रोका, जानें पूरा मामला
  • भारत में एक दिन में 34 हजार से ज्यादा संक्रमित हुए, केरल बढ़ा रहा टेंशन
  • पीएम मोदी जहां भी जाते हैं, वहीं के हो जाते हैं उनके कपड़ों में दिखती है संस्कृति की झलक
  • कृषि कानूनों के विरोध में SAD ने निकाला मार्च, हरियाणा से दिल्ली आने वाले सभी रास्ते बंद
  • दिल्ली में मानसून मेहरबान, अब तक 1159 मिलीमीटर बारिश दर्ज, आज भी छींटे पड़ने की आशंका
  • राहुल गांधी ने पीएम मोदी को दी जन्मदिन की बधाई, सोशल मीडिया पर यूजर्स ने किए मजेदार कमेंट्स
  • पीएम मोदी 71 की उम्र में फिट और ऊर्जा से हैं भरपूर, जानें दिनचर्या के बारे में
  • T20 World cup के बाद Virat kohli छोडेंगे लिमिटेड ओवर के फॉर्मेट की कप्तानी
  • गुजरात विधानसभा स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी ने नए मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण से पहले पद से दिया इस्तीफा
  • Covid Third Wave : Delta Virus की ऐसे करें पहचान, जानें लक्षण और बचाव के उपाय
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज पहुंचेंगे शिमला, यहां पढ़ें पूरा शेडयूल
  • जब नीति और नीयत साफ हो और प्रयास ईमानदार हो तो कुछ भी असंभव नहीं होता: पीएम मोदी
  • रॉकेट फोर्स करेगी मिसाइलों का सामना, पाक-चीन की चाल रह जाएगी धरी: सीडीएस बिपिन रावत
  • Coronavirus: भारत में एक दिन में 30 हजार से ज्यादा संक्रमित हुए, 431 लोगों की मौत
  • स्पेसएक्स ने रचा इतिहास: 4 आम लोगों को अंतरिक्ष में भेजा, 3 दिन तक पृथ्वी की कक्षा में रहेंगे
  • पीएम मोदी और जो बाइडेन के बीच क्वाड से पहले होगी बड़ी मीटिंग: रिपोर्ट
  • गुजरात के नए मंत्रिमंडल में पूरे फेरबदल की संभावना! शाम तक के लिए टला शपथ ग्रहण समारोह
  • पेट्रोल पंप कर्मचारी से गाली-गलौज करने वाला आरक्षक सस्पेंड
  • J&K: डल झील के ऊपर गरजेंगे वायुसेना के सुखोई-30 और मिग-21 लड़ाकू विमान
  • कोर्ट ने चार आतंकियों को 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा- सीरियल ब्लास्ट कर दहलाना चाहते थे देश
  • रोड एक्सीडेंट में बाइक सवार दो लोगों की मौत, कार की टक्कर से 30 फ़ीट ऊंचे फ्लाईओवर से नीचे गिरे
  • छत्तीसगढ़-झारखंड में आज और कल भारी बारिश की संभावना, जानिए देश के अन्य हिस्सों का हाल
  • पुलिस ने आरोपी पर किया 10 लाख का इनाम घोषित, मंत्री बोले- पकड़कर एनकाउंटर कर देंगे
  • संभावित कोरोना की तीसरी लहर से नहीं कर सकते इनकार, अगले साल भी करना होगा ये काम

छत्तीसगढ़

  • नशेड़ी चालक ने हाईवा घुसा दिया दुकान में, महिला का रो-रोकर बुरा हाल

    नशेड़ी चालक ने हाईवा घुसा दिया दुकान में, महिला का रो-रोकर बुरा हाल

    कोरबा. यातायात नियंत्रण को लेकर किए जा रहे तमाम दावों के बावजूद सभी क्षेत्र में लगातार हादसे हो रहे हैं । बुधवारी मुख्य मार्ग पर पिछली रात्रि लगभग 2:00 बजे के आसपास भारी वाहनों की आपस में टक्कर हो गई। इस घटना में रजनी राजपूत नामक महिला की दुकान बुरी तरह से तहस-नहस हो गई। महिला को भ्रम हुआ कि चोरों ने कोई घटना की है। बाहर आकर देखने पर वह हतप्रभ रह गये। मौके पर सब कुछ चौपट हो चुका था। रजनी ने बताया कि एक वाहन का चालक नाबालिक था और जबरदस्त शराब के नशे में था। महिला ने अपनी दुकान को हुए नुकसान को लेकर नाराजगी जताने के साथ दुर्घटनाग्रस्त वाहन के पहिए के आगे बैठकर विलाप करना शुरू कर दिया। उनकी मांग है कि उसे हुई क्षति की भरपाई कराई जाए और इसी के साथ नशेड़ी चालकों पर कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए।

     

    और भी...

  • पेट्रोल पंप कर्मचारी से गाली-गलौज करने वाला आरक्षक सस्पेंड

    पेट्रोल पंप कर्मचारी से गाली-गलौज करने वाला आरक्षक सस्पेंड

    रायपुर. पचपेढ़ी नाका स्थित पेट्रोल पंप में कार्यरत कर्मचारी से अभद्र व्यवहार और गाली-गलौच करना पुलिस आरक्षक को भारी पड़ गया. पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने आरक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए रक्षित केंद्र रायपुर संबद्ध कर दिया है.जानकारी के अनुसार, बीती रात रायपुर जिले की पुलिस चौकी ताजनगर में पदस्थ आरक्षक सुरजीत सिंह सेंगर ने कल देर रात पचपेढ़ी नाका स्थित पेट्रोल पंप के कर्मचारी से अभद्र व्यवहार करते हुए गाली-गलौज की थी.

    जिसका वीडियो भी वायरल हुआ था. इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने तत्काल कार्रवाई की. उन्होंने आरक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उप पुलिस अधीक्षक, रक्षित केंद्र, मणिशंकर चंद्रा को प्राथमिक जांच कर एक सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करने निर्देशित किया है.



     

    और भी...

  • बारहवीं की पूरक परीक्षा 17 से, छात्र इतने कम कि हर जिले में सिर्फ एक केंद्र

    बारहवीं की पूरक परीक्षा 17 से, छात्र इतने कम कि हर जिले में सिर्फ एक केंद्र

    रायपुर. माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा बारहवीं कक्षा की पूरक परीक्षाओं का आयोजन 17 सितंबर से किया जा रहा है। पूरक दिलाने वाले छात्रों की संख्या इतनी अधिक कम है कि प्रत्येक जिले में सिर्फ एक केंद्र ही बनाया गया है। पूरे प्रदेश में 2325 छात्र पूरक परीक्षा में शामिल होंगे। सबसे अधिक 195 छात्र रायपुर जिले में हैं, जबकि सबसे कम 6 छात्र नारायणपुर में हैं। रायपुर में पूरक परीक्षा के लिए केंद्र जेएन पांडेय विद्यालय में बनाया गया है। मंडल द्वारा जुलाई में 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए थे।

    घर से हुई इस परीक्षा के रिजल्ट ने रिकॉर्ड तोड़ दिए। पहली बार ऐसा हुआ, जब 97.43 प्रतिशत छात्र परीक्षा उत्तीर्ण करने में सफल हुए। इस वर्ष 2 लाख 89 हजार 23 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए थे। इनमें से 2 लाख 86 हजार 850 छात्र ही परीक्षा में शामिल हुए। शेष अनुत्तीर्ण अथवा पूरक श्रेणी में रखे गए।

    परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में होने के दौरान अनुत्तीर्ण छात्रों का प्रतिशत भी अधिक होता था। इस कारण पूरक आने वाले छात्र भी अधिक संख्या में होते थे। 25 से 30 हजार छात्र हर वर्ष पूरक परीक्षा में शामिल होते थे। छात्र संख्या अधिक होने के कारण प्रत्येक जिले में बनाए जाने वाले परीक्षा केंद्रों की भी संख्या अधिक होती थी। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब माशिम ने एक जिले में सिर्फ एक ही केंद्र बनाया है। ये परीक्षाएं 30 सितंबर तक चलेंगी। परीक्षाएं प्रारंभ होने के साथ ही माशिम मूल्यांकन कार्य भी शुरू कर देगा, ताकि जल्द परिणाम जारी किए जा सकें।

     

    और भी...

  • एसआई की नई भर्ती में उलझे पुराने अभ्यर्थी, आयुसीमा में मिलेगी छूट या होंगे बाहर

    एसआई की नई भर्ती में उलझे पुराने अभ्यर्थी, आयुसीमा में मिलेगी छूट या होंगे बाहर

    रायपुर. तीन साल पहले पुलिस विभाग में एसआई-सूबेदार की भर्ती प्रक्रिया रुक जाने के बाद नई भर्ती पूरी करने के आदेश ने हजारों लोगों को उलझा दिया है। खासकर ऐसे उम्मीदवार, जिन्होंने पुराने समय की भर्ती फार्म भरा है। उम्मीदवारों का कहना है, नई भर्ती पॉलिसी में उनके सामने आयु की योग्यता को लेकर बहुत ज्यादा परेशानी होगी। पिछले तीन साल से की जा रही मेहनत पर नई भर्ती से पानी फिर जाएगा। एक उम्मीदवार अभिजीत ने बताया, 2018 में पूर्व सरकार द्वारा निकाली गई 655 पदों पर भर्ती के नियमों में एकाएक बदलाव करने और पदों की संख्या बढ़ाने के बाद अब 1 अक्टूबर 2021 से नए सिरे से फॉर्म भराने की प्रक्रिया शुरू होने वाली है। यह भर्ती प्रक्रिया 31 अक्टूबर तक चलेगी।

    नए युवाओं को भी अवसर मिलेगा। 3 साल से आवेदन कर भर्ती शुरू होने का इंतजार कर रहे अभ्यर्थी अब इन सवालों से परेशान हैं कि क्या उन्हें दोबारा आवेदन करना होगा? अगर करना होगा तो क्या उन्हें उम्रसीमा में छूट दी जाएगी? सरकार की लेटलतीफी से हजारों अभ्यर्थियों की आयुसीमा 31 वर्ष से ज्यादा हो चुकी है। 2018 में 400 रुपए प्रति पोस्ट आवेदन शुल्क जमा है। शासन की ओर से इस राशि की वापसी के लिए क्या किया जाएगा, यह भी मालूम नहीं हो सका है। विभाग और सरकार की ओर से 3 साल पहले आवेदन कर चुके अभ्यर्थियों के विषय में अब तक कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है।

    अगर आवेदन कर चुके अभ्यर्थियों को उम्रसीमा और आवेदन शुल्क में छूट देने पर ध्यान नहीं दिया जाता है या किसी भी तरह से आवेदन कर चुके अभ्यर्थी नियमों के हवाले से इस नई भर्ती से वंचित किए गए तो भर्ती का मामला न्यायालय तक जा सकता है। उम्मीदवारों का कहना है, भर्ती शुरू होने में और देर होने से भविष्य बनाने के लिए चिंता बढ़ जाएगी। कई ऐसे अभ्यर्थी भी हैं, जिन्होंने आयु के लिहाज को देखते हुए लंबे समय से इंतजार किया है।

     

    और भी...

  • हिंदी दिवस विशेष : हिंदी की ऐसी दुर्गति, 19 सालों में 150 किताबें छाप सकी अकादमी

    हिंदी दिवस विशेष : हिंदी की ऐसी दुर्गति, 19 सालों में 150 किताबें छाप सकी अकादमी

    रायपुर. हिंदी की आवश्यकता लोगाें को प्रतिदिन होती है, लेकिन इसकी उपयोगिता को समझने का प्रयास कोई नहीं करता। हिंदी दिवस पर चर्चा का दायरा जरूर एक दिन के लिए बढ़ता हुआ दिखाई देता है, पर दिवस बीतने के बाद हिंदी की चर्चा बंद बक्से के भीतर होती है।

    हिंदी को बढ़ावा देने और क्षेत्रीय भाषा में हिंदी के विकास के लिए हिंदी ग्रंथ अकादमी की कल्पना कर 2006 में इसकी स्थापना की गई, जो उच्च शिक्षा विभाग और विश्वविद्यालयों के लिए संबधित है। हिंदी ग्रंथ अकादमी को 19 वर्ष बीत चुके हैं, पर स्नातक स्तर पर पढ़ाई जाने वाली आधार पाठ्यपुस्तकों को आज तक बदला नहीं गया है। यही कारण है कि पुस्तक प्रकाशन की संख्या कम है। अकादमी अपने उद्देश्य की राह से भटक चुकी है। किताबों की मार्केटिंग नहीं होने से अकादमी में लाखों की किताबें डंप पड़ी हैं। आलमारियों व गोदामों में रखीं पुस्तकें धूल फांक रही हैं। साफ-सफाई के अभाव में कीमती किताबें खराब होने की भी आंशका है। जानकारों का कहना है, मौलिक किताबों का प्रकाशन कर चुकी हिंदी ग्रंथ अकादमी को अब बेहतर लेखक और साहित्यकार नहीं मिल रहे हैं। अकादमी का संचालन शुरुआत से अस्थाई है।

    उच्च शिक्षा विभाग 2005 से स्नातक स्तर पर पढ़ाई जाने वाली आधार पाठ्यपुस्तकों को बदलने की बात कर रहा है, लेकिन अभी-तक यह साकार नहीं हो पाया है। जानकारों के अनुसार मध्यप्रदेश हिंदी ग्रंथ अकादमी के आधार पाठ्यक्रम को ही आज तक छत्तीसगढ़ के समस्त महाविद्यालयों में पढ़ाया जा रहा है। पूर्व संचालक शशांक शर्मा का कहना है, अपने कार्यकाल में पाठ्यपुस्तकों को बदलने के लिए कमेटी तैयार कर अवलोकन के बाद सचिव को प्रतिवेदन सौंपा था, लेकिन कार्य आगे नहीं बढ़ सका। मेरी जानकारी के अनुसार अकादमी में समग्र छत्तीसगढ़ ऐसी किताब थी, जिसकी हमने 25 हजार प्रतियां निकाली थीं।

     

    और भी...

  • बिग ब्रेकिंग : रायपुर एयरपोर्ट में बड़ा हादसा टला, टेकऑफ के समय विमान से टकराया पक्षी

    बिग ब्रेकिंग : रायपुर एयरपोर्ट में बड़ा हादसा टला, टेकऑफ के समय विमान से टकराया पक्षी

    रायपुर. रायपुर एयरपोर्ट में आज बड़ा हादसा टल गया. टेक ऑफ़ के समय विमान पक्षी से टकरा गया. पक्षी के टकराने से विमान में तकनीकी खराबी आ गई. जिसके चलते फ्लाइट रद्द कर दिया गया है. फ्लाइट से सभी यात्रियों को सुरक्षित उतार लिया गया है. मिली प्राथमिक जानकारी के मुताबिक रायपुर से दिल्ली के लिए एयर इंडिया की फ्लाइट उड़ान भरने वाली थी. फ्लाइट में 179 यात्री सवार थे. टेक ऑफ़ के कुछ सेकंड बाद ही विमान पक्षी से टकरा गया. पक्षी के टकराते ही विमान में तकनीकी खराबी आ गई. जिसके बाद प्रबंधन ने उड़ान रद्द करने का फैसला लिया है.

     

    और भी...

  • लोकवाणी की 21वीं कड़ी प्रसारित, जिला स्तर पर विशेष रणनीति से बन रही विकास की नई राह

    लोकवाणी की 21वीं कड़ी प्रसारित, जिला स्तर पर विशेष रणनीति से बन रही विकास की नई राह

    रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आकाशवाणी से हर माह प्रसारित होने वाली 'लोकवाणी' की 21वीं कड़ी (आपकी बात-मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के साथ) में बात-चीत की शुरूआत जय जोहार के अभिवादन के साथ की। उन्होंने कहा कि आज का विषय 'जिला स्तर पर विशेष रणनीति से विकास की नई राह' है। इसमें स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए समस्याओं को चिन्हित करना, उनके समाधान की तलाश करना, उन्हें लागू करना और जनता को राहत दिलाना है। इस कड़ी में सभी जिलों के समन्वित विकास के लिए स्थानीय जनता की सोच, इच्छा तथा अपेक्षा के अनुरूप काम करने में जिला प्रशासन को और अधिक सक्षम बनाया जा रहा है। इस तरह राज्य में प्रत्येक व्यक्ति को सशक्त बनाते हुए विकास में उनकी भागीदारी सुनिश्चित कर नवा छत्तीसगढ़ को गढ़ा जा रहा है।
     

    मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि गणेश चतुर्थी, नवा खाई तथा विश्वकर्मा जयंती जैसे कई पावन पर्वों के अवसर पर इस महीने के लोकवाणी का प्रसारण हो रहा है। आप सभी सावधानी तथा सुरक्षा के साथ इन पर्वों को खुशी-खुशी मनाते हुए सामाजिक एकता, सौहार्द्र और समरसता की हमारी महान विरासत को आगे बढ़ाएं।

    मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि प्रशासनिक इकाई के रूप में जिलों को महत्व देते हुए हमने अल्प समय में ही 5 नये जिले बनाने की पहल की है। साथ ही जिला स्तर पर जनहितकारी योजनाएं, कार्यक्रम और अभियान संचालित करने की खुली छूट दी है, ताकि स्थानीय जनता की सोच, इच्छा और अपेक्षा के अनुरूप काम करने में जिला प्रशासन अधिक सक्षम हो सके। रेडियो कार्यक्रम लोकवाणी में बताया गया कि छत्तीसगढ़ के सभी जिलों के समन्वित विकास के लिए आमजनता की समस्याओं को संवेदनशीलता के साथ सुनने और स्थानीय जरूरत के हिसाब से कदम उठाने के लिए प्रशासन को फ्री-हेंड दिया गया है। इस तरह आमजनों के जीवन-स्तर का तीव्र उन्नयन और उनकी आजीविका के लिए स्थायी समाधान पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

     

    और भी...

  • युवती की अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार

    युवती की अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार

    बेमेतरा. बेमेतरा जिले के चंदनु चौकी क्षेत्र में हुई घटना से सनसनी फैल गया है दरअसल गांव में अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला सामने आया है। पूरा मामला बेमेतरा जिले के चंदनु चौकी क्षेत्र के ग्राम सोनपुरी का है, जहां पर बीते दिवस दोपहर को अपने मां के साथ खेत में काम कर युवती घर लौट रही थी तभी रास्ते में उसकी मां तालाब में नहाने चली गई इधर युवती को अकेली देख गांव के दो युवकों ने उनका अपहरण कर दूर खेत में ले गया जहां उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया उसके बाद युवती की हत्या कर दी गई।

    इधर जब मां घर पहुंची तो युवती के घर नहीं पहुंचने पर छानबीन की गई तो पता चला दो युवकों द्वारा युवती को जबरदस्ती खींचते हुए खेत की ओर ले गए थे। जानकारी के बाद परिजनों ने युवती की अपहरण की सूचना थाने को दी, परिजनों के शक के आधार पर पुलिस ने गांव के दो युवकों को हिरासत में लिया तो मामले का खुलासा हुआ। आरोपी टिकेंद्र कोसले और भूपेंद्र सतनामी को हिरासत में लेकर जब पुलिस ने पूछताछ की तो उन्होंने उनका अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या करना स्वीकार कर लिया है वहीं पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पुलिस आगे की जांच में जुट गई है।

     

    और भी...

  • चंदूलाल मेडिकल कॉलेज के किसी भी बकाये का भुगतान नहीं करेगी सरकार

    चंदूलाल मेडिकल कॉलेज के किसी भी बकाये का भुगतान नहीं करेगी सरकार

    रायपुर. छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अधिग्रहित किए गए चंदुलाल चंद्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय दुर्ग के अधिग्रहण के लिए बनाए अधिनियम में सरकार ने साफ किया है कि इस कॉलेज की समस्त संपत्तियां सभी अधिभार से मुक्त होकर सरकार में निहित होगी। यही नहीं अधिग्रहण से पहले इस कॉलेज के मालिकों पर किसी भी जीवित या विधिक व्यक्ति को किसी भी देयता के लिए सरकार कोई भुगतान नहीं करेगी।

    राज्य सरकार द्वारा कॉलेज के अधिग्रहण के सिलसिले में बनाए गए अधिनियम में यह बात कही गई है। इस अधिनियम का राजपत्र में प्रकाशन किया गया है। कॉलेज का प्रशासन, नियंत्रण एवं समस्त चल एवं अचल संपत्तियों का कब्जा इस अधिनियम के प्रारंभ होने पर कंपनी अधिनियम के तहत सरकार को सौंप दिया जाएगा। इसके साथ ही कॉलेज के अस्पताल और समस्त आस्तियों, स्वत्वों एवं हितों के साथ सरकार में निहित हो जाएगा। इसके संबंध में किसी व्यक्ति, जीवित या न्यायिक व्यक्ति, कंपनी अंशधारक या किसी अन्य संस्था का स्वत्व कब्जा एवं अन्य संस्था का स्वत्व, कब्जा एवं हित भी समाप्त हो जाएगा।

    अधिनियम में कहा गया है कि सरकार में निहित संस्थान के संबंध में तत्समय प्रवृत किसी अन्य विधि, किसी न्यायालय के आदेश या निर्णय या डिक्री अथवा किसी संविदा या अन्य दस्तावेज में किसी बात के होते हुए भी इस अधिनियम के प्रारंभ होते ही समाप्त माने जाएंगे। साथ ही किसी भी कंपनी, समिति, व्यक्ति जीवित या न्यायिक, या किसी संस्था का प्रशासन और प्रबंधन समाप्त माना जाएगा।

    कॉलेज के सरकार में निहित होने से पहले की देयताएं उसके पूर्व के स्वामियों की देयताएं बनीं रहेंगी। विधि की समान्य प्रक्रियाओं का पालन करते हुए ऋणदाताओं द्वारा उनकी वसूली पूर्व स्वामियों से की जा सकेंगी। किंतु शासन से कालेज को लेकर कोई भी देयता बकाया नहीं होगी। सरकार किसी अतिरिक्त राशि का भुगतान नहीं करेगी।

     

    और भी...

  • रायपुर के बाद कवर्धा में भी जंगल सफारी, सरगुजा-रायगढ़ में जू का प्रस्ताव

    रायपुर के बाद कवर्धा में भी जंगल सफारी, सरगुजा-रायगढ़ में जू का प्रस्ताव

    रायपुर. राजधानी में जंगल सफारी विकसित होने के बाद अब राज्य के बिलासपुर स्थित सबसे पुराने जू कानन पेंडारी को जू से जंगल सफारी के रूप में विकसित करने की मांग उठने लगी है। इसके साथ ही कवर्धा को जंगल सफारी बनाने वन विभाग ने 90 हेक्टेयर जमीन तलाश कर ली है। सीसीएफ वाइल्ड लाइफ राजेश पाण्डेय के मुताबिक बजट आवंटित होने के बाद कवर्धा में जल्द ही सफारी का निर्माण किया जाएगा।

    उल्लेखनीय है कि रायपुर में जंगल सफारी विकसित होने के बाद रायगढ़ के तत्कालीन विधायक रोशन अग्रवाल ने इंदिरा विहार में जू खोले जाने का प्रस्ताव शासन के पास भेजा था। इसी तरह से रायगढ़ में जू की मांग को देखते हुए सरगुजा के लोगों ने अपने क्षेत्र में जू खोले जाने की मांग की थी। कवर्धा में सफारी खोले जाने की अनुमति मिलने के बाद सरगुजा के साथ रायगढ़ के लोगों ने अपने क्षेत्र में जू खोले जाने की मांग एक बार फिर से तेज कर दी है। जबकि कानन पेंडारी प्रबंधन ने चार माह पूर्व जू को सफारी के रूप में डेवलप करने वन मुख्यालय को पत्र लिखा था। उल्लेखनीय है कि कानन पेंडारी का कुल क्षेत्रफल 114 हेक्टेयर है। इसके साथ ही कानन पेंडारी से लगी वन विभाग की खाली जमीन है। उसी अतिरिक्त जमीन को कानन पेंडारी में जोड़कर पौने दो सौ एकड़ में सफारी विकसित करने की मांग वन अफसरों से की गई है।

    सीसीएफ श्री पाण्डेय के अनुसार कवर्धा में 124 हेक्टेयर में जंगल सफारी विकसित करना है। इसके लिए छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के पास 90 हेक्टेयर का भूखंड चिन्हांकित किया गया है। जहां भूखंड चिन्हांकित किया गया है, उसके आसपास शासन की शेष खाली जमीन तलाश की जा रही है। सफारी विकसित करने सीजेडए से अनुमति लेने की प्रक्रिया चालू होने की जानकारी सीसीएफ ने दी है।
    कवर्धा में 124 हेक्टेयर में जंगल सफारी बनना है, इसके लिए 90 हेक्टेयर जमीन तलाश कर ली गई है। शेष जमीन की तलाश जारी है। सफारी में पर्यटकों के लिए जू बनाने के साथ जंगल से रेस्क्यू किए गए घायल तथा बीमार वन्यजीवों का उपचार किया जाएगा।

     

    और भी...

  • सीएम भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी का प्रसारण 12 सितंबर को

    सीएम भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी का प्रसारण 12 सितंबर को

    रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 21 वीं कड़ी का प्रसारण 12 सितंबर रविवार को होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार जिला स्तर पर विशेष रणनीति से विकास की नई राह विषय पर प्रदेशवासियों से बातचीत करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

     

    और भी...

  • राष्ट्रीय लोक अदालत कल, राजीनामा योग्य मामलों का होगा निराकरण

    राष्ट्रीय लोक अदालत कल, राजीनामा योग्य मामलों का होगा निराकरण

    रायपुर. छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रदेश में कल 11 सितम्बर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। इसके तहत् न्यायालयों में लंबित सभी राजीनामा योग्य मामले, जलकर, भूमि अधिग्रहण, राजस्व आपदा मुआवजे मामले, किराया नियंत्रण, आबकारी मामले, ट्रेफिक चालान मामले, श्रम एवं बिजली विवाद से संबंधित प्रकरणों का निराकरण के लिए प्रकरण रखे जायेंगे।

    यदि किसी पक्षकार का मामला राजीनामा योग्य है तथा वह आयोजित होने वाली इस लोक अदालत का लाभ प्राप्त करना चाहता है तो वह जल्द से जल्द स्वयं अथवा अपने अधिवक्ता के माध्यम से मामले को राजीनामा हेतु आयोजित होने वाली 11 सितम्बर की लोक अदालत में रखने हेतु संबंधित न्यायालय से अनुरोध कर सकता है। उल्लेखनीय है कि लंबित प्रकरणों में कमी लाने तथा प्रभावित पक्षकारों को त्वरित एवं सुलभ न्याय प्रदान करने की दिशा में नेशनल लोक अदालत एक प्रभावशाली कदम है। लोक अदालत शीघ्र, सुलभ एवं सस्ता न्याय प्राप्त करने का अच्छा माध्यम है।

     

    और भी...

  • राजेश अग्रवाल 'डॉक्टरेट' उपाधि से सम्मानित, राजभवन में हुआ सम्मान

    राजेश अग्रवाल 'डॉक्टरेट' उपाधि से सम्मानित, राजभवन में हुआ सम्मान

    रायपुर। विश्व मानवाधिकार सुरक्षा आयोग द्वारा समाजसेवी एवं उद्योगपति राजेश अग्रवाल को डॉक्टरेट की उपाधि प्रदान की गई है। राजभवन में छत्तीसगढ़ की राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने स्काउट्स एवं गाइड्स छत्तीसगढ़ के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश अग्रवाल को 'डॉक्टरेट' की उपाधि का प्रमाणपत्र एवं बैच प्रदान करते हुए उन्हें बधाई दी एवं उनके द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा की।

    जेसीआई इंडिया सीनेट बोर्ड के डायरेक्टर, अंतर्राष्ट्रीय प्रशिक्षक राजेश अग्रवाल को समाजसेवा के क्षेत्र में उक्त मानद उपाधि प्रदान करते समय छत्तीसगढ़ शासन के मंत्री प्रेमसाय सिंह, विधायक विनोद चंद्राकर, विधायक शकुंतला साहू सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

     

    और भी...

  • राजनांदगांव जिला अध्यक्ष की तबीयत बिगड़ी, धरनास्थल से ले जाई गयीं आंबेकर हॉस्पिटल

    राजनांदगांव जिला अध्यक्ष की तबीयत बिगड़ी, धरनास्थल से ले जाई गयीं आंबेकर हॉस्पिटल

    रायपुर। छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका कल्याण संघ के बैनर तले छत्तीसगढ़ की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका आज तीज के मौके पर निर्जला व्रत रखकर अपने नियमितीकरण की मांग कर रही हैं। पिछले कई मर्तबा के आंदोलन के बाद सरकार की तरफ से उनकी मांगों के पूरी ना होने की दशा में आज तीजा पर्व के मौके पर आंगनबाड़ी कर्मियों ने आंदोलन करना सुनिश्चित किया। इसी के अंतर्गत यहां पर आंदोलन किया जा रहा था। प्रांताध्यक्ष पद्मावती साहू ने बताया कि आंदोलन के दौरान राजनांदगांव की जिला अध्यक्ष लता तिवारी की तबियत अचानक बिगड़ गईम मौके पर अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने आंदोलन स्थल से एंबुलेंस को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची एम्बुलेंस और हेल्थ टीम ने राजनांदगांव की जिला अध्यक्ष लता तिवारी को लेकर मेकाहारा पहुंचाया है। उनके साथ प्रदेश उपाध्यक्ष व रायपुर जिला अध्यक्ष भुनेश्वरी तिवारी भी मौजूद हैं। गौरतलब है कि आंदोलन स्थल पर जिला प्रशासन की तरफ से SDM भी पहुंच गए हैं, उन्हें प्रांताध्यक्ष पद्मावती साहू के नेतृत्व में मांगों से संबंधित एक ज्ञापन भी सौंपा गया है।

     

    और भी...

  • मतदाता सूची के साथ टीका नहीं लगाने वालों की बनेगी लिस्ट

    मतदाता सूची के साथ टीका नहीं लगाने वालों की बनेगी लिस्ट

    रायपुर. जिले में वैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं लगवाने वालों की पहचान अब घर-घर जाकर की जाएगी। मतदाता सूची अपडेट करने के साथ वैक्सीन नहीं लगवाने वालों की सूची तैयार की जाएगी। इसके लिए बूथ लेबल के अधिकारियों को जिम्मा दिया गया है, जो 18 सितंबर तक अपनी सूची नोडल अधिकारी को सौंपेगे। रायपुर जिले में अभी 8.76 लाख लोगों को दूसरा टीका लगाया जाना है। रायपुर जिले में अब तक 13 लाख 52 हजार 565 लोगों को पहला टीका लगाया जा चुका है मगर वैक्सीन की दूसरी डोज केवल 4 लाख 75 हजार 594 लोगों ने लगवाया है। यानी पहले और दूसरे के बीच 8 लाख 76 हजार 971 का बड़ा अंतर है। इसमें कुछ लोग ऐसे हैं जिनकी दूसरी खुराक का वक्त नहीं आया है मगर बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी शामिल हैं, जो किसी कारण‌वश टीका केंद्र तक नहीं पहुंचे हैं। जिले में 17 लाख 52 हजार 556 लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके हिसाब से चार लाख लोगों ने अब तक टीका नहीं लगवाया है। इनकी सूची तैयार करने और लोगों के दिल में वैक्सीन को लेकर बैठ चुके भ्रम को दूर करने का प्रयास करेंगे। इसके लिए रायपुर जिले में 1852 लोगों की टीम बनाई गई है, जो बूथ लेबल में घर-घर जाकर मतदाता सूची को अपडेट करेंगे। साथ ही वैक्सीन नहीं लगाने वालों की सूची सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ तैयार करेंगे। वर्तमान में लोगों को वैक्सीनेशन की सुविधा देने के लिए रायपुर जिले में 2 सौ से ज्यादा केंद्र बनाए गए हैं। इसके साथ ही विशेष सत्रों का आयोजन कर लोगों को वैक्सीन लगाने की सुविधा दी जा रही है।

    मंगलवार को धरसींवा ब्लाक के माना, सिलयारी, मांढर में गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगवाने के लिए विशेष शिविर का आयोजन किया गया। बीएमओ डॉ. एनके लकरा के नेतृत्व में आयोजित इस शिविर में 48 लोगों को टीका लगाया गया। जिला स्वास्थ्य विभाग के मीडिया प्रभारी गजेन्द्र डोंगरे ने बताया कि गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन के लिए जिले में विशेष शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

    जिले में बीस प्रतिशत लोगों ने अब तक वैक्सीन नहीं लगाया है। लोगों का भ्रम दूर कर उन्हें वैक्सीन के लिए प्रेरित करने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए घर-घर जाकर बूथ स्तर की टीम सर्वे करेगी।

     

    और भी...