ब्रेकिंग न्यूज़
  • शिया वक्फ बोर्ड ने राम मंदिर निर्माण के लिए राम जन्मभूमि न्यास को 51 हजार का चेक दिया
  • बेंगलुरु: कांग्रेस और जेडीएस के बागी विधायक बीजेपी में हुए शामिल

छत्तीसगढ़

  • चुनाव प्रचार से लौटते वक्त पेड़ से टकराई विधायक देवव्रत सिंह की कार, बाल-बाल बचे

    चुनाव प्रचार से लौटते वक्त पेड़ से टकराई विधायक देवव्रत सिंह की कार, बाल-बाल बचे

    कवर्धा। गंडई पंडरिया विधायक देवव्रत सिंह का वाहन चुनाव प्रचार से लौटते समय खपरी गांव के निकट दुर्घटनाग्रस्त हो गया। उस वक्त वाहन में विधायक देवव्रत सिंह सवार थे। दरअसल चुनाव प्रचार से वापस लौटते समय सोमवार देर रात उनका वाहन बिजली पोल से टकरा गया। और जोरदार टक्कर में उनका वाहन पूरी तरह से छतिग्रस्त हो गया। गनीमत रही कि देवव्रत सिंह तथा उनके ड्राइवर को कोई गंभीर चोट नही आई। वो बाल बाल बच गए।

    खबर सुनते ही समर्थकों का लगा तांता

    रात को हुए सड़क दुर्घटना की खबर पूरे विधानसभा क्षेत्र में आग की तरह फैल गई और सुबह से ही विधायक के घर समर्थकों की भीड़ लग गई। वहीं इस हादसे के बाद मीडिया को जानकारी देते हुए विधायक देवव्रत सिंह ने कहा कि कल रात चुनाव प्रचार में वापसी के दौरान यह हादसा घटित हुआ है। ईश्वर की कृपा और लोगों प्यार और आशीर्वाद से हम लोगों को कोई चोट नही पहुँची है। आप सब का प्यार और आशीर्वाद हमारे साथ है।

    और भी...

  • केटीयूः नियमों को ताक में रखकर दोबारा बढ़ाया गया प्रभारी कुलपति का कार्यकाल

    केटीयूः नियमों को ताक में रखकर दोबारा बढ़ाया गया प्रभारी कुलपति का कार्यकाल

    रायपुर। राजधानी के कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के कुलपति का बढ़ाया कार्यकाल गया है। एक साल से कुलपति के लिए तरस रहे विश्वविद्यालय में पुनः प्रभारी कुलपति की नियुक्ति की गई है। राजभवन ने आदेश जारी कर रायपुर कमिश्नर जीआर चुरेंद्र को फिर से विश्वविद्यालय का प्रभार दे दिया है।

    सुत्रों के अनुसार विश्वविधालय में कुलपति को लेकर चल रहे विवाद के मद्देनजर जीआर चुरेंद्र का कार्यकाल बढ़ाया गया है। यूनिवर्सिटी में लंबे समय से कुलपति की कुर्सी खाली है। लेकिन कमेटी से चर्चा के बावजूद अब तक नाम को लेकर निर्णय नहीं हो सका है। छग राज्य बनने के बाद संभवतः यह पहली बार हुआ है जबकि प्रभारी कुलपति का प्रभार बढ़ा दिया गया हो।

    और भी...

  • रायपुरः शराब और रफ्तार के कारण हुआ भीषण सड़क हादसा, एयरबैग की वजह से बची जान

    रायपुरः शराब और रफ्तार के कारण हुआ भीषण सड़क हादसा, एयरबैग की वजह से बची जान

    रायपुर। राजधानी की सड़क एक बार फिर शराब और रफ्तार के कारण भीषण सड़क हादसे की गवाह बनी। सोमवार सुबह रायपुर के राज्य अतिथि गृह के सामने बड़ा एक्सीडेंट हुआ। जिसमें दो लग्जरी कार आपस मे टकरा गईं। दुर्घटनाग्रस्त कारें एक ही परिवार की बताई जा रही हैं। घटना सुबह करीब 4 बजे की है, घटना में दो लोगों को चोटें आई हैं। दोनों घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    बताया जा रहा है कि कार के एयरबैग की वजह से उनमें सवार लोगों की जान बच सकी है। सूचना के बाद सिविल लाइन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सड़क से कारें हटवाई। वहीं पुलिस मामले की जांच में जुट गई हैं।

    और भी...

  • Cardiological Society of India की छग इकाई के पहले अध्यक्ष के रूप में डॉ जावेद अली खान ने लिया शपथ

    Cardiological Society of India की छग इकाई के पहले अध्यक्ष के रूप में डॉ जावेद अली खान ने लिया शपथ

    रायपुर। कार्डिओलॉजिकल सोसाइटी ऑफ़ इंडिया (CSI) की छत्तीसगढ़ राज्य इकाई (CGCS) की प्रथम कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण समारोह रविवार 19 जनवरी को किया गाय। CGCS के प्रथम चुनाव में डॉ जावेद अली खान राज्य इकाई के अध्यक्ष और डॉ स्मित श्रीवास्तव सचिव के पदों पर सर्वसमिति से चयनित हुए हैं। नव गठित कार्यकारिणी में डॉ जावेद अली खान राज्य इकाई के अध्यक्ष और डॉ स्मित श्रीवास्तव सचिव के अतिरिक्त ट्रेझर डॉ फ़िरोज़ मेमन , उपाध्यक्ष पद पर डॉ के गुरुनाथ, डॉ शैलेश शर्मा, डॉ जयराम अय्यर, डॉ चन्दन कुमार दास, क्लीनिकल सेक्रेटरी के रूप में डॉ कमल कांत आदिले, डॉ बविंदर चुग, डॉ सितांशु शेखर मोहंती, जॉइंट सेक्रेटरी के लिए डॉ महेंद्र प्रताप समल, डॉ बजरंग लाल बंसल, डॉ बिनोद अग्रवाल, डॉ गौरव त्रिपाठी, एवं एग्जीक्यूटिव कमिटी में डॉ केके अग्रवाल, डॉ अलोक राय, डॉ दिलीप रत्नानी,डॉ राजेंद्र बांठिए, डॉ राजेंद्र परघनिए, साइंटिफिक कमिटी के सदस्य डॉ प्रभात पांडेय, डॉ सतीश सूर्यवंशी, डॉ रश्मि वर्मा, डॉ विवियन रहीम, डॉ अखिलेश वर्मा, डॉ जगन हनुमंथु ने डॉ प्रोफेसर मनोज कुमार रोहित पीजीआई चंडीगढ़ की कार्यक्रम अध्यक्षता में शपथ ली।

    इसके साथ ही कार्डिओलॉजिकल सोसाइटी ऑफ़ छत्तीसगढ़ ने ह्रदय रोग पर राज्य का क्रमांक जर्नल आरम्भ करने के लिए डॉ अलोक राय, डॉ स्मित श्रीवास्तव, डॉ प्रणय अनिल जैन को इस जर्नल के प्रथम संपादक मनोनीत किया है। इस मौके पर अध्यक्ष डॉ जावेद अली खान ने शपथ ग्रहण समारोह में कार्डिओलॉजिकल सोसाइटी ऑफ़ छत्तीसगढ़ के प्रस्तावित लक्ष्यों की जानकारी दी, जिसमें मासिक व् वार्षिक संगोष्ठी का आयोजन, द्विमासिक ई-जर्नल का प्रकाशन प्रमुख्य हैं।

    इस शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन, कार्डिओलॉजिकल सोसाइटी ऑफ़ छत्तीसगढ़ के इस वर्ष के पहली ह्रदय की धड़कनों के विकार, निदान, और उपचार के लिए छत्तीसगढ़ एसोसिएशन ऑफ़ फिसिशन्स की भागीदारी में आयोजित संगोष्ठी में संपन्न हुआ। इस संगोष्ठी में पीजीआई चंडीगढ़ के कार्डियोलॉजी के प्रोफेसर डॉ मनोज कुमार रोहित, हैदराबाद के प्रख्यात कार्डियोलॉजिस्ट डॉ नवीन कृष्णा कामानना, इंदौर के प्रसिद्ध एलेक्ट्रफीसिओलॉजिस्ट डॉ अनिरुद्ध व्यास ने ईसीजी से ह्रदय के विकार का अनुसंधान करने की विधि पर व्याख्यान दिया।

    और भी...

  • रायपुर के अपहृत कारोबारी प्रवीण सोमानी को अपहरणकर्ताओं ने दूसरे राज्य या नेपाल में किया शिफ्टः सूत्र

    रायपुर के अपहृत कारोबारी प्रवीण सोमानी को अपहरणकर्ताओं ने दूसरे राज्य या नेपाल में किया शिफ्टः सूत्र

    रायपुर। छत्तीसगढ़ के कारोबारी अपहृत प्रवीण सोमानी को अपहरणकर्ताओं के द्वारा दूसरे राज्य या नेपाल में शिफ्ट करने की खबर मिल रही है। हालांकि रायपुर पुलिस ने बिहार पुलिस के साथ मिलकर जॉइंट आपरेशन चलाकर अलग-अलग गैंग के करीब एक दर्जन सदस्यों को हिरासत में लिया है।

    वहीं रायपुर के एसएसपी आरिफ शेख समेत छत्तीसगढ़ पुलिस की एक दर्जन से ज्यादा पुलिस कर्मी बिहार में डेरा डाले हुए हैं। भारत के बॉर्डर से लगे नेपाल और उसके आसपास के इलाके में पुलिस ने कई जगह दबिश भी दी है। लेकिन बताया जा रहा है कि गैंग ने प्रवीण को किसी दूसरे राज्य में शिफ्ट कर दिया है, जिसका पता लगाया जा रहा है।

    और भी...

  • नक्सली हमले में आईपीएस समेत 29 पुलिसकर्मियों के शहीद मामले की न्यायिक जांच कराएगी सरकार

    नक्सली हमले में आईपीएस समेत 29 पुलिसकर्मियों के शहीद मामले की न्यायिक जांच कराएगी सरकार

    रायपुर। राजनांदगांव के मदनवाड़ा में IPS वीके चौबे समेत 29 पुलिसकर्मियों के शहीद मामले की सरकार न्यायिक जांच कराएगी। जिसके लिए सरकार ने जस्टिस शम्भूनाथ श्रीवास्तव की अध्यक्षता में न्यायिक जांच आयोग का गठन किया है। बता दें कि राजनांदगांव के तत्कालीन एसपी विनोद कुमार चौबे और उनकी कंपनी पर नक्सलियों ने योजनाबद्ध तरीके से हमला किया था। और इस हमले में एसपी चौबे समेत 29 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। शहीद चौबे को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया था।

    इस घटना के बाद सूचना तंत्र और एसपी को बगैर पर्याप्त सुरक्षा और तथाकथित परिस्थिति बताकर भेजे जाने को लेकर सवाल खड़े होते रहे हैं। घटना की एफआईआर मानपुर थाने में दर्ज हुई थी, लेकिन राजनांदगांव में पदस्थ रहे तत्कालीन आईजी मुकेश गुप्ता और इंटिलेजेंस की भूमिका को लेकर सवाल खड़े होते रहे।

    हालांकि इस मामले की कई स्तर पर जांच हो चुकी है, लेकिन इस न्यायिक आयोग को 9 बिंदुओं पर जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

    ये है जांच के प्रमुख बिंदु

    - घटना किन परिस्थितियों में हुई?

    - क्या घटना को घटित होने से बचाया जा सकता था?

    - सुरक्षा निर्धारित प्रक्रियाओं और निर्देशों का पालन किया गया था?

    - किन परिस्थितियों में एसपी और सुरक्षाबलों को अभियान में भेजा गया?

    - हमले के बाद क्या एक्शन लिए गए, अतिरिक्त बल भेजा गया या नहीं?

    - मुठभेड़ में माओवादियों को हुए नुकसान और उनके मरने और घायल होने की जांच

    - सुरक्षा बल किन परिस्थितियों में घायल हुए अथवा मरे

    - क्या घटना को रोका जा सकता था?

    - घटना से पहले, उस दौरान और बाद में कौन से मुद्दे इससे संबंधित थे?

    - राज्य और केंद्रीय फोर्स के बीच तालमेल था या नहीं?

    और भी...

  • एक दिवसीय प्रदेश प्रवास पर केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, CAA के समर्थन रैली में होंगे शामिल

    एक दिवसीय प्रदेश प्रवास पर केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, CAA के समर्थन रैली में होंगे शामिल

    रायपुर। एक दिन के छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने रायपुर एयरपोर्ट में पत्रकारों से बात करते हुए सीएए के समर्थन में बोलते हुए कांग्रेस पार्टी को झूठा करार दिया। फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि CAA के खिलाफ कुछ दल राजनीति कर रहे है इसको समझना होगा। उन्होंने कहा कि भारत की पार्लियामेंट को कानून बनाने का अधिकार है, राज्यों को अधिकार नही है।

    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान धर्म के आधार पर बने हैं। जो लोग भारत की तरफ आये हैं यह एक्ट उनके लिए है। जो भारत मे अल्पसंख्यक रह रहे है उनके लिए भी इस एक्ट से कोई नुकसान नही है। छठवीं अनुसूची के क्षेत्रों का इसमे उल्लेख है लेकिन असम के कुछ भागों में इसका कोई असर नही होगा। वहीं उन्होंने कहा कि सीएए औऱ एनआरसी पर कांग्रेस झूठ बोल रही है लोगो को इस बारे में थोड़ा बाद में समझ आएगा। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते एयरपोर्ट से कांकेर के लिए रवाना हुए। जहां वो CAA के समर्थन रैली में शामिल होंगे।

    और भी...

  • दंतेवाड़ा आश्रम में छात्रा प्रसव मामले पर दोषियों पर कार्यवाही की मांग, AISF ने दी आंदोलन की चेतावनी

    दंतेवाड़ा आश्रम में छात्रा प्रसव मामले पर दोषियों पर कार्यवाही की मांग, AISF ने दी आंदोलन की चेतावनी

    दन्तेवाड़ा। जिले के कन्या परिसर हॉस्टल पातररास की एक 19 वर्षीय छात्रा प्रसव कराने का मामला गरमाया है ऑल इंडिया स्टूडेन्टस् फेडरेशन छग के अध्यक्ष महेश कुंजाम ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि अखबार, प्रेस मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से लगातार ये मामला सामने आ रहा है, इस मामले को सम्बधित अधिकारी रफा दफा करने में जुटे हैं। यह मामला गंभीर है।

    ऑल इंडिया स्टूडेन्टस् फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष महेश कुंजाम ने इसका निन्दा करते हुए सम्बधित विभागीय अधिकारी व दोषी अधीक्षिका के खिलाफ मामला दर्ज कर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है। इस मामले को लेकर ऑल इंडिया स्टूडेन्टस् फेडरेशन दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग को लेकर आंदोलन करेगी। इस तरह का अलग-अलग घटनाएं विगत वर्षों से छात्रावास आश्रमों में आते रहते हैं, ऐसी घटनाओं को हल्के मे लेकर प्रशासन ने रफा दफा करती है। ये ही परिणाम आज भी देखने को मिल रहा है इसलिए गंभीरता से लेकर उचित जाँच कर दोषियो को कड़ी कार्यवाही करते हुए अधीक्षिका को सेवा समाप्त करने की मांग करते हैं। बता दें की दंतेवाड़ा जिले के पातररास छात्रावास में बीते दिन एक छात्रा के प्रसव का मामला सामने आया है। जहां छात्रा ने एक मृत शिशु को जन्म दिया है

    और भी...

  • 7 वर्षीय बच्ची का शरीर पेड़ की छाल में हो रहा तब्दील, दुर्लभ बीमारी का सरकार कराएगी इलाज

    7 वर्षीय बच्ची का शरीर पेड़ की छाल में हो रहा तब्दील, दुर्लभ बीमारी का सरकार कराएगी इलाज

    दंतेवाड़ा। दुर्लभ बीमारी से ग्रसित राजेश्वरी को इलाज के लिए अंततः सरकारी मदद मुहैया हो सकी है। स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने राजेश्वरी के संपूर्ण इलाज का आश्वासन दिया है। जिसके बाद राजेश्वरी को दन्तेवाड़ा अस्पताल से इलाज के लिये रायपुर भेजा गया। जहां डॉ बी आऱ आंबेडकर मेमोरियल हास्पिटल रायपुर में ईलाज किया जाएगा।

    दरअसल दंतेवाड़ा जिला की बारसूर कौरगॉव के इन्द्रावती नदी पार बेंगोफेर गांव की 7 वर्षीय राजेश्वरी दुर्लभ बीमारी की चपेट में फंसकर जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। जीन म्यूटेशन या त्वचा की खराबी की वजह से उसकी त्वचा पेड़ की छाल जैसी सख्त हो रही है। बताया जा रहा है कि भारत मे इसके बहुत ही कम मरीज मिलते है। 1 महीने पहले जिला प्रशासन ने कौरगॉव में मेगा मेडिकल कैम्प लगाया था तब भी राजेश्वरी इलाज की उम्मीद से शिविर पर पहुँची थी।

    और भी...

  • Big News : बस्तर में फिर दिखा ड्रोन, सुरक्षा एजेसियां अलर्ट, कैम्प को निशाना बनाने की कोशिश

    Big News : बस्तर में फिर दिखा ड्रोन, सुरक्षा एजेसियां अलर्ट, कैम्प को निशाना बनाने की कोशिश

    दोरनापाल। सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित कैम्पों में अज्ञात ड्रोन की निगरानी फिर से देखने को मिलने लगी है। इसको लेकर सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं 0। बीते दिनों किस्टाराम में ड्रोन देखे जाने के बाद दोरनापाल के सीआरपीएफ 74 वाहिनी के हेडक्वार्टर व अंदरूनी पुसवाड़ा कैम्प में नजर आया, जिसके बाद 74 वाहिनी मुख्यालय से अज्ञात ड्रोन का पीछा करने अपना ड्रोन उड़ाया, मगर रेंज से बाहर हो जाने से ड्रोन को नही ढूंढा जा सका।

    आपको बता दें कि बीते 3 महीने से नक्सलप्रभावित सुकमा जिले के अंदरूनी कैम्पो में ये दुसरी बार अज्ञात ड्रोन के देखे जाने का मामला सामने आया है। जब दोरनापाल सीआरपीएफ मुख्यालय तक अज्ञात ड्रोन पहुंचाख् पर सुरक्षाबलों की मुस्तैदी और वक्त रहते जवानों के ड्रोन उड़ाने से पूरी तरह कैम्प का मुआयना नही कर सका।

    लम्बे समय से कैम्पों पर नजर रखने से किसी कैम्प को निशाना बनाने की कोशिश की आशंका जताई जा रही है हालांकि सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट है और प्रदेश से लेकर केंद्रीय स्तर पर बैठक में इसकी चर्चा हो चुकी है, जिसमें ड्रोन को देखते ही धरासायी करने के निर्देश जवानों को दिए गए है। साथ ही पता लगाया जा रहा है कि आखिर ड्रोन आ कहाँ से रहा है..?

    और भी...

  • उद्योगपति सोमानी अपहरण कांड : रायपुर बिलासपुर के लोग भी शामिल,गृहमंत्री बोले- खुलासा नहीं कर सकता

    उद्योगपति सोमानी अपहरण कांड : रायपुर बिलासपुर के लोग भी शामिल,गृहमंत्री बोले- खुलासा नहीं कर सकता

    रायपुर। अरबपति उद्योगपति प्रवीण सोमानी के अपहरणकांड में सुराग मिल गया है। सूत्रों के मुताबिक बिहार के गैंग ने योजनाबद्ध तरीक़े से प्रवीण का अपहरण किया है। बताया जा रहा है कि करीब 10 करोड़ की फिरौती की मांग गैंग के जरिये की गई है।

    इस संबंध में परिवार के एक सदस्य को फोन भी किया गया है, लेकिन पुलिस ने अभी इसका खुलासा नहीं किया है। सूत्र यह भी बताते हैं कि इस अपहरणकांड की साजिश में रायपुर और बिलासपुर के भी कुछ लोग शामिल हैं, जिन्होंने प्रवीण के डेली रूटीन की रेकी करने से लेकर गैंग से संपर्क किया है। पुलिस को उनके बारे में भी जानकारी मिल चुकी है।

    खबर है कि यह वही गैंग है, जिसने उत्तरप्रदेश, बिहार और झारखंड में कई व्यापारियों, डॉक्टरों और उद्योगपतियों का अपहरण किया है। अब इस मामले में प्रदेश के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का बयान भी सामने आया है। गृह मंत्री ने कहा है कि यह गंभीर विषय है। इस मामले में पुलिस क्या काम कर रही है और क्या सुराग मिले हैं, इसका खुलासा नहीं कर सकता।

    कारोबारियों में दहशत को लेकर गृहमंत्री का बयान है कि सुरक्षा तो सबको चाहिए और यहाँ करोड़ों लोग हैं, लेकिन हर एक के पीछे सुरक्षा नहीं लगाई जा सकती। अब अपराधियों के मन में क्या है, यह कोई नहीं जान सकता।

    और भी...

  • बड़ी खबर : बस्तर के आश्रम में गर्भवती हुई नाबालिग, गर्भपात कराने वाली वार्डन सस्पेंड

    बड़ी खबर : बस्तर के आश्रम में गर्भवती हुई नाबालिग, गर्भपात कराने वाली वार्डन सस्पेंड

    दन्तेवाड़ा। जिला मुख्यालय दन्तेवाड़ा के एक आश्रम में 11 वीं कक्षा की बालिका के गर्भवती होने की खबर आई है। बताया जा रहा है कि आश्रम अधीक्षिका ने संस्था में चोरी छिपे उस नाबालिग का गर्भपात भी कराया है।

    मामले की जांच में एसडीएम और तहसीलदार जुट गए हैं। छात्रा की हालत बिगड़ने पर आनन-फानन में जिला अस्पताल ले जाया गया, तब मामले का खुलासा हुआ। इसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

    जानकारी मिली है कि आश्रम वार्डन हेमलता नाग को सस्पेंड कर दिया गया है। आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त ने इस घटना की पुष्टि की है।

    और भी...

  • सीएम ने जनता से मांगे सुझाव...मंत्रियों से भी वन टू वन... पहली बार हो रही बजट सत्र की ऐसी तैयारी

    सीएम ने जनता से मांगे सुझाव...मंत्रियों से भी वन टू वन... पहली बार हो रही बजट सत्र की ऐसी तैयारी

    रायपुर। आज वन, आवास, पर्यावरण एवं परिवहन विभाग के मंत्री मोहम्मद अकबर की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ बैठक होगी। इसी तरह कल गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और उसके बाद अगले 27 जनवरी तक रोज मंत्रियों के साथ चर्चा होगी। मंत्रियों से बातचीत कर मुख्यमंत्री बजट को अंतिम रूप देंगे। फरवरी के अंत में विधानसभा में बजट पेश होना है।

    इस बार बजट एक लाख करोड़ तक का हो सकता है, जिसमें इस बार शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर आधारित योजनाओं पर ज्यादा फोकस होगा।

    गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव से मुख्यमंत्री की नक्सल क्षेत्रों के बजट पर अहम चर्चा होनी है, जिसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार केंद्र सरकार से करीब 7000 करोड़ के पैकेज की मांग कर सकता है, गृह और पंचायत विभाग ने विकास और सुरक्षा का बड़ा रोड मैप तैयार किया है।

    नए बजट सत्र में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आम जनता से अपनी राय रखने की अपील की है।

    आम जनता के सुझाव लेने के लिए सीएम ने ईमेल आईडी और व्हाट्सएप नम्बर जारी किया है।

    सीएम बघेल ने फेसबुक पोस्ट कर के जनता से सुझाव देने का आग्रह किया है।

    उन्होंने लिखा कि - हम चाहते हैं कि आपकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिये बनाये जाने वाले बजट में आपकी भागीदारी हो।

    कृपया अपने सुझाव देकर अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे।

    सुझाव निम्न माध्यमों से भेज सकते हैं:-

    ई-मेल- bhagidaribudget2020@gmail.com 

    व्हाट्सएप्प- 7440413604

    और भी...

  • दंतेवाड़ाः 1 लाख ईनामी सहित 3 नक्सली DRG और जिला पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में गिरफ्तार

    दंतेवाड़ाः 1 लाख ईनामी सहित 3 नक्सली DRG और जिला पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में गिरफ्तार

    दंतेवाड़ा। जिले की कटेकल्यान थाना क्षेत्र से 1 लाख रुपए ईनामी नक्सली समेत 3 नक्सली चिकपाल व किलेपाल से गिरफ्तार किया गया है। DRG और जिला पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में यह गिरफ्तारी की गई है। पकड़े गए नक्सलियों में पांडू माड़वी, मुचाकी मुड़ा, मुड़ाराम मरकाम शामिल हैं।

    नक्सली पांडू माड़वी DKMS का अध्यक्ष बताया जा रहा है, जिस पर छग शासन ने 1लाख का ईनामी घोषित किया था। जबकि मुचाकी मुड़ा का जनमिलिशिया सदस्य है। और मुड़ाराम मरकाम CNM का सदस्य बताया गया। सभी नक्सलियों की कटेकल्यान थानाक्षेत्र से घेराबंदी कर गिरफ्तारी की गई है। जिनके उपर स्पाईक लगाना, पुलिस पार्टी की रेकी करना, ग्रामीणों की मीटिंग बैठाने का आरोप है।

    और भी...

  • खामसामा के खुदकुशी करने के मामले में FIR को अमित जोगी ने बताया राजनीतिक प्रतिशोध, CBI जांच की मांग

    खामसामा के खुदकुशी करने के मामले में FIR को अमित जोगी ने बताया राजनीतिक प्रतिशोध, CBI जांच की मांग

    बिलासपुर। पूर्व सीएम अजीत जोगी के सरकारी बंगला मरवाही सदन में खानसामा मनुआ उर्फ संतोष कौशिक के आत्महत्या के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री व मरवाही विधायक अजित जोगी व जेसीसीजे प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व विधायक अमित जोगी के खिलाफ बिलासपुर पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज कर ली है। जिसके बाद अमित जोगी ने सोशल मीडिया के जरिए अपना बयान जारी किया है।

    जेसीसीजे प्रदेशाध्यक्ष ने फेसबुक, ट्विटर पोस्ट किया कि- पीड़ित परिवार के साथ हमारी पूरी सहानुभूति है। जोगी परिवार का इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना से कोई लेना-देना नहीं था। राजनीतिक प्रतिशोध से सत्ताधारी दल के इशारे पर कल देर रात FIR दर्ज की गई, इसलिए हम न्यायिक मजिस्ट्रेट अथवा CBI से जांच की मांग करते हैं। हमारे लिए सभी न्यायिक विकल्प खुले हैं।आपको बता दें पूर्व सीएम अजीत जोगी के सरकारी बंगला मरवाही सदन में खानसामा मनुआ उर्फ संतोष कौशिक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

    और भी...