ब्रेकिंग न्यूज़
  • जम्मू कश्मीर के पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान जैश का आतंकी ढेर
  • Delhi Air Pollution: दिल्ली में वायु प्रदूषण से मिली थोड़ी राहत, AQI में आई थोड़ी सी गिरावट
  • Breaking: गोवा में MiG-29K फाइटर एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
  • भीमा कोरेगांव विवाद: पुणे कोर्ट से सभी आरोपियों को दिया बड़ा झटका, जमानत याचिका की खारिज
  • भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण

देश

  • एक शख्स ने पीएम केयर्स फंड में दान किये 501 रुपए, PM ने ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा ये

    एक शख्स ने पीएम केयर्स फंड में दान किये 501 रुपए, PM ने ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा ये

    Coronavirus: भारत में कोरोनावायरस की रोकने के लिए सरकार ही नहीं तमाम एनजीओ, फिल्म स्टार, उद्योगपति, क्रिकेटर भी प्रधानमंत्री केयर्स फंड में अपना सहियोग कर रहे हैं। इस कड़ी में देश के कुछ आम लोग भी हैं, सब अपनी-अपनी सहूलियत के हिसाब से पीएम केयर्स में दान की राशि दे रहे हैं।

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टि्वटर हैंडल पर एक सैय्यद अताउर रहमान नाम के शख्स ने पीएम केयर्स फंड में 501 रुपए दान किये हैं। साथ ही एक दान की पर्ची भी शेयर की है।

    जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैयद के ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा और उनके साथ ही तारीफ की उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा कि कुछ भी बड़ा या छोटा नहीं होता हर व्यक्ति का अपना एक दान का महत्व होता है और वह दान का महत्व रखता है यह दिखाता है कि हम किस तरह सामूहिक प्रयास के लिए तैयार हैं कोशिश लगातार कर रहे हैं और इस महामारी को हम सभी मिलकर हरा सकते हैं।

    आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना वायरस के चलते भारत में अब तक 1050 मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें से 26 लोगों की मौत ताजा अपडेट के मुताबिक हो चुकी है और इसमें से 70 लोग कोरोना से गंभीर बीमारी से ठीक भी हो चुके हैं और अस्पताल से छुट्टी भी मिल चुकी है।

    और भी...

  • Lockdown: अगर जरुरी काम से जाना है बहार तो जरुर साथ रखें कर्फ्यू पास, जानिए क्या है कर्फ्यू पास

    Lockdown: अगर जरुरी काम से जाना है बहार तो जरुर साथ रखें कर्फ्यू पास, जानिए क्या है कर्फ्यू पास

    Coronavirus Lockdown: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तहलका मचा रखा है। यह वायरस दुनिया के कई देशों में फैल चूका है। लेकिन अगर हम भारत की बात करें तो इसकी चपेट में आने वालों की गिनती लगातार बढ़ती ही जा रही है। जो अबतक बढ़कर 1040 तक पहुंच गई है। जिसमें से 26 लोगों की मौत हो चुकी है। 

    इस खतरनाक कोरोना वायरस के आंतक को देखते हुए पूरे देश में 14 अप्रेल तक लॉकडाउन किया गया है। इस लॉकडाउन के दौरान लोगों को बाहर निकलना सख्त मना है और लोगों को रोकने के लिए सरकार काफी सख्ती दिखा रही है। लोगों को होने वाली परेशानियां देखते हुए जरूरी काम से बाहर निकलने के लिए कर्फ्यू पास की सुविधा दिया जा रहा है। इसी बीच आज हम कर्फ्यू पास क्या है और इससे जुड़ी तमाम जानकारी बताने जा रहे हैं।

    कर्फ्यू पास क्या है

    कर्फ्यू पास एक तरह का प्रमाण पत्र है। जिसे सरकार की तरफ से जारी किया जाता है। इस पास के जरिए लोगों को लॉकडाउन या कर्फ्यू के समय में आवाजाही पर छूट मिलती है।

    कहां से मिलेगा कर्फ्यू पास

    • गुरुग्राम-मानेसर के लिए - दक्षिण-पश्चिम डीसीपी के कार्यालय से मिलेगा पास

    • फरीदाबाद के लिए - दक्षिण-पूर्व डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • सोनीपत के लिए आउटर - नॉर्थ डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • बहादुरगढ़ और झज्जर के लिए - बाहरी दिल्ली डीसीपी कार्यालय से मिलेगा पास

    • गाजियाबाद के लिए - शाहदरा डीसीपी कार्यालय से मिलेगा कर्फ्यू पास

    नोएडा के लिए - पूर्वी डीसीपी कार्यालय से मिलेगा कर्फ्यू पास

    कर्फ्यू पास से किसे है छूट

    • दवाई और चिकित्सा उपकरण, खाद्य पदार्थ, किराना दुकानें, दूध, ब्रेड, फल, सब्जियों, अंडे, मांस, मछली की दुकानें और उनके लिए परिवहन सेवा

    • जीवनाश्यक वस्तुओं और कृषि वस्तुओं-उत्पादों के लिए परिवहन सेवाएं

    • अस्पताल, फार्मेसी व ऑप्टिकल दुकानें, फार्मास्यूटिकल्स कंपनियां और उनके डीलरों के लिए परिवहन सेवाएं 

    • ई-कॉमर्स, पेट्रोल पंप, एलपीजी गैस, तेल एजेंसियां, होम डिलिवरी सुविधा वाले रेस्तरां

    • बैंक, एटीएम, इंश्योरेंस और संबंधित गतिविधियां

    • प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया

    • आईटी और दूरसंचार, डाक

    • इंटरनेट और डाटा सेवाएं

    दिल्ली पुलिस की वेबसाइट से भी ले सकते हैं पास

    इसके लिए आप दिल्ली पुलिस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर पास के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

    और भी...

  • महिलाओं के आरोप, कालकाजी मंदिर से मिलने वाले भोजन से नहीं होती जरूरतें पूरी, डीएम ने दी सफाई

    महिलाओं के आरोप, कालकाजी मंदिर से मिलने वाले भोजन से नहीं होती जरूरतें पूरी, डीएम ने दी सफाई

    Coronavirus: कोरोनावायरस को देखते हुए मोदी सरकार ने भारत में 21 दिनों का लॉक डाउन है। इस स्थिति में केंद्र और राज्य सरकारें लगातार गरीबों की मदद में जुटे हुए हैं। सरकार तो अपना काम कर ही रही है, उनके साथ अन्य लोग भी गरीबों को खाना मुहैया करा रहे हैं। दिल्ली सरकार भी गरीबों के लिए भोजन उपलब्ध करा रही है। लेकिन दिल्ली में कालका जी मंदिर के पास बने एक रेन बसेरे में रहने वाली महिलाओं ने भोजन की कमी की बात कही है।

    उन महिलाओं का कहना है कि हम आमतौर पर कालकाजी मंदिर में भोजन लेने आते हैं। लेकिन यहां पर जितना भोजन मिलता है उससे हमारी जरूरतें पूरी नहीं होतीं और हमारे बच्चों को दूध भी नहीं मिल पा रहा है।

    महिलाओं के आरोपों पर डीएम ने दी सफाई

    खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक रैन बसेरे में रहने वाली कुछ महिलाओं के आरोप पर दक्षिण दिल्ली के डीएम ने एक बयान दिया है। डीएम ने कहा है कि हमने दैनिक वेतन भोगियों के लिए भोजन की जरूरत के लिए डेटाबेस तैयार किया है। हम खाने के पैकेट प्रदान करने के लिए कुछ एजेंसियों का सहारा ले रहे हैं। हमने गुरुवार को 9500 खाने के पैकेट वितरित किए हैं। हमें दक्षिण दिल्ली के स्थानों के लिए प्रतिदिन 11134 खाने के पैकेट की जरूरत है।

     

    और भी...

  • DD National पर फिर होगा रामायण का प्रसारण, केंद्रीय सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दी जानकारी

    DD National पर फिर होगा रामायण का प्रसारण, केंद्रीय सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दी जानकारी

    Ramayan: कोरोना वायरस के चलते लोगों की डिमांड पर केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। 80 और 90 के दशक का चर्चित सिरियल 'रामायण' एक बार फिर टीवी पर वापसी कर रहा है। 28 मार्च शनिवार से डीडी नेशनल पर इसका प्रसारण शुरू होने वाला है।

    केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जानकारी देते हुए कहा की जनता की मांग पर अब शनिवार से डीडी नेशनल पर रामायण का फिर से प्रसारण किया जाएगा। दरअसल, कोरोना वायरस के चलते घोषित लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया पर तमाम लोग सरकार से लगातार रामायन के पुन: प्रसारण की मांग कर रहे थे। सरकार के मुताबिक पब्लिक डिमांड के बाद यह फैसला लिया गया हैं।

    एएनआई के मुताबिक, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि जनता की मांग पर मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि कल 28 मार्च से डीडी नेशनल पर रामायण का फिर से प्रसारण शुरू हो रहा है। इस प्रसारण को दो भागों में बांटा गया है। एक भाग सुबह 9 बजे से 10 बजे तक और दूसरा भाग शाम 9 से 10 के बीच प्रसारित किया जाएगा।

    और भी...

  • कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा, जानिए किस राज्य में कितने पीड़ित कितने मरीज

    कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा, जानिए किस राज्य में कितने पीड़ित कितने मरीज

    Coronavirus : भारत में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। गुरुवार को 560 कोरोना पीड़ित मरीजों की लिस्ट सामने आई। इसमें अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 46 लोग कोरोना के ठीक हो चुके हैं।

    तो वहीं अब तक 504 लोग कोरोना से पीड़ित हैं। कोरोना से पीड़ित मरीज सबसे ज्यादा महाराष्ट्र और केरल में हैं। महाराष्ट्र में मरीजों की संख्या 107 और केरल में 105 मरीज हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में 21 दिन तक यानी 14 अप्रैल तक लॉक डाउन आह्वाहन किया है और सभी लोगों से इस लॉक डाउन का पालन करने की अपील की है।

    जानिए कीन राज्यों में कोरोना से पीड़ित कितने मरीज है

    पश्चिम बंगाल- 9

    आंध्र प्रदेश- 7

    जम्मू-कश्मीर- 7

    हिमाचल प्रदेश- 2

    हरियाणा- 30

    गुजरात- 38

    दिल्ली- 29

    चंडीगढ़- 6

    छत्तीसगढ़- 1

    बिहार- 4

    कर्नाटक- 41

    केरल- 105

    महाराष्ट्र- 112

    राजस्थान- 32

    पंजाब- 29

    पुडुचेरी- 1

    ओडिशा- 2

    मध्य प्रदेश- 9

    मणिपुर- 1

    लद्दाख- 13

    तमिलनाडु- 18

    तेलंगाना- 39

    उत्तर प्रदेश- 35

    उत्तराखंड- 5

    और भी...

  • Coronavirus: कोरोना वायरस के आंकड़ों में लगातार बढ़ोतरी, महाराष्ट्र में 100 के पार पहुंचा आंकड़ा

    Coronavirus: कोरोना वायरस के आंकड़ों में लगातार बढ़ोतरी, महाराष्ट्र में 100 के पार पहुंचा आंकड़ा

    Coronavirus: भारत में लगातार कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी होती नजर आ रही है। कोरोना वायरस का सबसे अधिक असर भारत के महाराष्ट्र में देखा जा रहा है। यहां पर कोरोना वायरस के केसों का आंकड़ा दिन बदिन बढ़ते जा रहा है। यह आंकड़ा अब 100 के पार पहुंच गया है। जिस कारण महाराष्ट्र सरकार की टेंशन और ज्यादा बढ़ गई है।

    कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए महाराष्ट्र समेत देशभर के विभिन्न राज्यों को लॉकडाउन भी कर दिया गया है। महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी है कि पुणे से तीन और सतारा से 1 नया केस सामने आने के बाद प्रदेश में कोरोना वायरस के केसों का आंकड़ा 101 पहुंच गया है। इन सबके बीच महाराष्ट्र सरकार की तरफ से जारी आदेशों का सख्ती से पालन भी किया जा रहा है। इस खतरनाक कोरोना वायरस के कारण आर्थिक राजधानी मुंबई की लाइफलाइन पूरी तरह से ठप है।

    धारा 144 लागू

    आपको बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से रास्तों, प्लैटफॉर्म्स, एयरपोर्ट्स सभी जगह सन्नाटा पसरा हुआ है। लोग सरकार के आदेश का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग जैसी सभी अहम बातों का ध्यान रख रहे हैं। आर्थिक राजधानी में ऑटो-टैक्सी सेवाएं बीते सोमवार को चल रही थीं।

    लेकिन प्रदेश में धारा 144 लागू होने के बाद प्रदेश सरकार की ओर से ऑटो में केवल एक सवारी और टैक्सी में दो सवारियों की ही अनुमति दी जाएगी। लेकिन आने-जानी वाली सवारियों को ठोस वजह बतानी होगी। यही शर्तें प्रवाइवेट वाहनों पर भी लागू हैं। हालांकि, निजी वाहनों की आवाजाही लगभग प्रतिबंधित है।

    और भी...

  • Coronavirus: केंद्र सरकार का दावा, भारत में कोरोना वायरस के जांच की सबसे ज्यादा क्षमता है

    Coronavirus: केंद्र सरकार का दावा, भारत में कोरोना वायरस के जांच की सबसे ज्यादा क्षमता है

    Coronavirus: केंद्र सरकार ने दावा किया है कि भारत के पास कोरोना वायरस के जांच की सबसे ज्यादा क्षमता है। यह बात भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने अपने प्रेस कांफ्रेंस में कही है।

    जिसका विडियो आज रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने ट्विटर हैंडिल पर शेयर करके किया है। साथ ही उन्होंने इस बात की भी जानकारी दी है कि किस देश में कोरोना वायरस जांच की कितनी क्षमता है।

    अन्य देशों की ये है क्षमता

    केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार,

    1. फ्रांस हर हफ्ते 10000 टेस्ट कर सकता है।

    2. यूके 16000 टेस्ट कर सकता है।

    3. यूएसए 26000 टेस्ट कर सकता है।

    4. जर्मनी 42000 टेस्ट कर सकता है।

    5. इटली 52000 टेस्ट कर सकता है।

    भारत 70000 टेस्ट करने में सक्षम

    लेकिन भारत अकेला ऐसा देश है जो हर सप्ताह 70,000 कोरोना वायरस टेस्ट करने में सक्षम है। साथ ही उन्होंने कहा है कि भारत में कोरोना वायरस टेस्ट के लिए 111 सरकारी लैब इस समय एक्टिव हैं।

    और भी...

  • कोरोना से जंग में CSR भी होगा हथियार, भारत सरकार ने संस्थानो को लिखा पत्र

    कोरोना से जंग में CSR भी होगा हथियार, भारत सरकार ने संस्थानो को लिखा पत्र

    नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया गया है। तो वहीं भारत में कोरोनो वायरस के प्रसार को देखते हुए इसे अधिसूचित आपदा घोषित करने का निर्णय लिया है।

    साथ ही यह भी स्पष्ट किया गया है कि COVID-19 के लिए सीएसआर (CSR) फंड का खर्च किया जा सकता है। भारत सरकार द्वारा इसे अधिसूचित आपदा के रूप में व्यवहार करने का निर्देश भी दिया गया है। परिपत्र के अनुसार हेल्थकेयर, स्वच्छता और आपदा प्रबंधन सहित स्वास्थ्य देखभाल को बढ़ावा देने से संबंधित निर्देश दिए गये हैं।

    और भी...

  • Coronavirus : एम्स से भी लॉकडाउन का ऐलान, सभी ओपीडी सेवाएं अगली सूचना तक स्थगित

    Coronavirus : एम्स से भी लॉकडाउन का ऐलान, सभी ओपीडी सेवाएं अगली सूचना तक स्थगित

    Coronavirus Lockdown: कोरोना वायरस से पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है। कहा तो यह भी जा रहा है कि अगर सरकार लॉकडाउन ना करें तो कोरोना किसी भी समय हमारे देश में भी थर्ड स्टेज पर पहुंच सकता है। जो हमारे देश के लिए बिल्कुल अच्छा नहीं होने वाला है।

    मिली रिपोर्ट के अनुसार ये तीसरा सप्ताह हमारे देश के लिए काफी संवेदनशील है। इसी क्रम में सबसे बड़ी समस्या की बात ये है कि अब एम्स में भी लॉकडाउन कर दिया गया है। एम्स के डॉक्टर ओपीडी में मरीजों अब को नहीं देखेंगे।

    ये है मामला

    आपको बता दें कि देश के कई हिस्सों में आज से लॉकडाउन शुरू हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार देश में 31 मार्च तक लॉकडाउन किया गया है। लेकिन अगर समस्या खत्म नहीं होती है तो इस लॉकडाउन को और आगे भी बढ़ाया जा सकता है। इसी क्रम में एम्स से भी लॉकडाउन का ऐलान किया गया है।

    बताया जा रहा है कि एम्स की सभी ओपीडी सेवाएं अगली सूचना तक स्थगित कर दी गई है। यह सूचना एम्स के सभी केंद्रों के लिए जारी की गई है। इसका अर्थ है कि देश के भी एम्स के केंद्रों की ओपीडी सेवाएं अगले आदेश तक बंद रहेंगी।

    और भी...

  • Coronavirus: कोरोना वायरस के कारण ट्रेनों में यात्रियों को मिलने वाली चाय, नाश्ता और भोजन सब बंद

    Coronavirus: कोरोना वायरस के कारण ट्रेनों में यात्रियों को मिलने वाली चाय, नाश्ता और भोजन सब बंद

    Coronavirus: कोरोना वायरस को लेकर देश में रोकधाम के लिए लागातर सरकारें द्वारा कड़े कम उठाए जा रहे है। भारतीय रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है और ऐसे में अब भारतीय रेलवे ने कैटरिंग पर रोक लगा दी है। ट्रेन में यात्रियों को मिलने वाली चाय, नाश्ता और भोजन सब को बंद कर दिया गया है।

    मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (आईआरसीटीसी) ने कई स्टेशन पर खाने-पीने से संबंधित चीजों को बंद करने का फैसला किया है। सभी स्टेशनों को सख्ती से पालन करने के आदेश दिए गए हैं। इसके अलावा सभी मेल और एक्सप्रेस ट्रेन में पेंट्रीकार और साइड वेंडिंग व्यवस्था को भी बंद कर दिया गया है। ये रोक हालात के सुधरने तक लगाई गई है। इससे पहले रेलवे ने 31 मार्च तक कई ट्रेनों को स्थगित कर दिया है।

    बीते दिनों भारतीय रेलवे ने कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर 150 से अधिक ट्रेनों को रद्द कर दिया गया था। रेलवे ने कहा कि ये ट्रेनें 31 मार्च तक परिचालन में नहीं रहेंगी। इन ट्रेनों को रद्द करने का भारतीय रेलवे का निर्णय 20 मार्च से प्रभावी है। ट्रेनों को रद्द करने के अलावा, रेल मंत्री पीयूष गोयल के नेतृत्व में राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर ने घातक कोरोनावायरस कोविद-19 के प्रसार की जांच करने के लिए कई उपाय किए हैं।

     

    और भी...

  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी करवाएंगे कोरोना का टेस्ट, कनिका की पार्टी में गए इस नेता से कि थी मुलाका

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी करवाएंगे कोरोना का टेस्ट, कनिका की पार्टी में गए इस नेता से कि थी मुलाका

    Coronavirus: अब भारत में भी कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। इसे लेकर केंद्र सरकार लगातार अपील कर रही है लेकिन कुछ लापरवाह लोगों के वजह से ये बीमारी को आगे बढ़ रहा है। इस बात को देखते हुए खबर मिल रही है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का भी कोरोना वायरस का टेस्ट होने वाला है। 

    मीडिया के मुताबिक, सांसद दुष्यंत सिंह भी कनिका कपूर की पार्टी में शामिल हुए थे, जिसके बाद उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी। लेकिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का भी टेस्ट होना अभी बाकी है। बता दें कि रामनाथ कोविंद के 15 मार्च को प्रस्तावित सोनभद्र जिले में निर्धारित कार्यक्रम को भी रद्द कर दिया गया है।

    वैसे तो सांसद दुष्यंत सिंह ने कनिका कपूर के पॉजिटिव पाए जाने के बाद खुद आइसोलेशन वार्ड में चले गए है। इसके अलावा सरकार उनकी पार्टी में शामिल हुए लोगों की निगरानी कर रही है। कनिका कपूर के खिलाफ योगी सरकार ने एफआईआर भी दर्ज करवाई है। शुक्रवार को देश में सबसे ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आए है।  देहरादून और मध्य प्रदेश में कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद सरकार और ज्यादा अलर्ट हो गई है। एक घंटे से भी कम समय बाद कोरोना वायरस की पुष्टि हो गई।

    यहां तक कोरोना वायरस की पुष्टि के मामलों की संख्या 256 तक पहुंच गई है। जिसमें पंजाब, महाराष्ट्र, दिल्ली और कर्नाटक में एक-एक की मौत हो गई। भारत में इस महामारी से मरने वालों की संख्या अब 5 हो गई है। कई राज्यों की सरकारों ने स्कूल, कॉलेज, मूवी थिएटर, मॉल, पार्क और अन्य सार्वजनिक स्थानों को बंद करने के साथ सामाजिक गड़बड़ी के लिए स्थितियों को सुविधाजनक बनाने के लिए कमर कस रखी है।

    और भी...

  • सारा तेंदुलकर ने किया कनिका के पोस्ट पर कमेंट, यूजर्स ने इस कमेंट पर जाहिर किया गुस्सा

    सारा तेंदुलकर ने किया कनिका के पोस्ट पर कमेंट, यूजर्स ने इस कमेंट पर जाहिर किया गुस्सा

    Coronavirus: सिंगर कनिका कपूर की टेस्ट रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। कनिका कपूर ने Covid-19 पॉजिटिव की पुष्टि अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के माध्यम से दी है। कनिका द्वारा दि गई कोरोना वायरस की जानकारी के इस पोस्ट पर कई यूजर्स और सेलिब्रिटीज ने कमेंट कर कनिका के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। 

    आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा तेंदुलकर ने भी कनिका कपूर के पोस्ट पर कमेंट किया है। सारा तेंदुलकर ने पोस्ट पर कमेंट कर लिखा में आशा करती हूं आप जल्द स्वस्थ हो जाओगी। सारा तेंदुलकर के इस कमेंट पर लोगों ने रिप्लाई भी किया और सारा तेंदुलकर से कई सवाल भी पूछ डाले है।

    बता दें कि एक यूजर्स ने सारा तेंदुलकर के इस कमेंट पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए लिखा कि उनका क्या जिनको कनिका ने इन्फेक्टेड किया होगा। कनिका कपूर को सजा मिलनी चाहिए, सरकार को चाहिए कि वो कनिका कपूर को जेल में डाल दे। साथ ही यूजर्स ने लिखा भारत इस तरह तो कोरोना वायरस के स्टेज 3 में पहुंच जाएगा, ऐसे में हजारों लोग मारे जाएंगे।

    सारा तेंदुलकर के इस कमेंट पर एक अन्य यूजर्स ने लिखा-

    आपके पिता जहां जिम्मेदार नागरिक बनकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं वहीं कनिका जैसे लोग गैर जिम्मेदाराना रवैया अपना रहे हैं, कनिका ने जो किया उसके लिए उन्हें सजा मिलनी चाहिए।

    और भी...

  • Coronavirus: कनिका कपूर की पार्टी में शामिल हुए ये बड़े नेता, अब सभी ने खुद को रखा सेल्फ आइसोलेशन में

    Coronavirus: कनिका कपूर की पार्टी में शामिल हुए ये बड़े नेता, अब सभी ने खुद को रखा सेल्फ आइसोलेशन में

    Coronavirus: बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है। कनिका की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद देश में हड़कंप मच गया है। कनिका कपूर लंदन से लौट कर भारत में कई पार्टियां अटेंड कर चुकी है, और इस दौरान उनके संपर्क में कई लोग आए हैं। इस वजह से लोगों में भय का माहौल बना हुआ है। कनिका कपूर के बच्चे लंदन में रहते हैं और कनिका वहीं से लौटकर भारत आई थी।

    कनिका कपूर से प्राप्त जानकारी के अनुसार एयरपोर्ट पर उनकी जांच भी की गई थी, इसके बावजूद कुछ दिनों बाद भी उन्हें लगातार फीवर रहा। जिसके बाद कनिका ने कोरोना वायरस की जांच करवाया, जिसमें कनिका का कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आया हैं। कोरोना पॉजिटिव सिंगर कनिका कपूर लंदन से लौटकर कई बड़ी पार्टियों में भी शिरकत कर चुकी है, इस पार्टी में देश के बड़े-बड़े नेता भी शामिल रहे थे। कनिका कपूर ने लखनऊ स्थित अपने अपार्टमेंट में ही इस पार्टी को आयोजित किया था।

    कांग्रेस नेता जितिन भी कनिका की पार्टी में थे मौजूद

    कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने भी उस पार्टी में शिरकत की थी, जिसे सिंगर कनिका कपूर ने आयोजित किया था। कनिका के कोरोना पॉजिटिव की खबर आने के बाद जितिन प्रसाद ने खुद को सेल्फ आइसोलेशन में रख लिया है।

    राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी आइसोलेशन में

    राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी सेल्फ आइसोलेशन में है, क्योंकि उन्होंने भी उस पार्टी में शिरकत की थी। जिसे कनिका कपूर ने आयोजित किया था। पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे दुष्यंत भी पार्टी में पहुंचे थे और कनिका के संपर्क में आए थे। इसके बाद दुष्यंत भी सेल्फ आइसोलेशन में चले गए हैं।

    और भी...

  • Coronavirus: दिल्ली में 31 मार्च तक सभी शॉपिंग मॉल बंद, मेडिकल स्टोर, होम डिलीवरी पर नहीं रोक

    Coronavirus: दिल्ली में 31 मार्च तक सभी शॉपिंग मॉल बंद, मेडिकल स्टोर, होम डिलीवरी पर नहीं रोक

    Coronavirus: कोरोना से मचे कोहराम को देखते हुए दिल्ली सरकार पूरी तरह से अलर्ट हो गई है। इसी क्रम में सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सभी शॉपिंग मॉल को बंद कर दिया है। मीडिया से मिले रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में 31 मार्च तक सभी शॉपिंग मॉल को बंद कर दिया गया है। मगर सभी सामना की दुकाने, मेडिकल स्टोर, शराब दुकानें और होम डिलीवरी पर रोक नहीं लगाई है।

    आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली सरकार ने गुरुवार को घोषणा की थी कि कोरोना वायरस को देखते हुए दिल्ली में सभी रेस्टोरेंट 31 मार्च तक बंद रहेंगे। आदेश तुरंत प्रभाव लागू कर दिया गया था।

    हालांकि, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि सभी टेकवे और होम डिलीवरी सेवाएं जारी रहेंगी। सीएम केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार दिल्ली में स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए सभी उपाय कर रही है। इस प्रभाव के लिए उन्होंने बसों और कैब जैसे सार्वजनिक सेवा वाहनों को प्रतिदिन सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक डिपो को हटा दिया जाएगा।

    दिल्ली में एक मौत के अलावा अब तक 10 पॉजिटिव कोरोनो वायरस के मामले सामने आए हैं। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी से सतर्क रहने के लिए कहा है साथ ही कहा है कि आप अपने घरों में रविवार को जनता कर्फ्यू का पालन करें।

    और भी...

  • Nirbhaya case: दोषियों की फांसी के बाद निर्भया की मां ने कहा- आज मिला मेरी बेटी को इंसाफ

    Nirbhaya case: दोषियों की फांसी के बाद निर्भया की मां ने कहा- आज मिला मेरी बेटी को इंसाफ

    Nirbhaya case: निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले 7 साल 3 महीने बाद चारों दोषियों को शुक्रवार कि सुबह 5.30 बजे पर तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई है। जिसके बाद जेल के बाहर मिठाइयां बांटी गईं और दोषियों कि फांसी पर जश्न मनाया।

    चारों दोषियों को फांसी मिलने के बाद निर्भया की मां ने कहा कि आखिरकार मेरी बेटी को आज इंसाफ मिल ही गया। इस दौरान निर्भया कि मां ने विक्ट्री का साइन दिखाया। उन्होंने आगे कहा कि मैंने अपना मां होने का पूरा धर्म निभाया है। चारों दोषियों को शुक्रवार कि सुबह 5.30 बजे दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी गई। यह सुप्रीम कोर्ट के बाद पूर्व-सुनवाई हुई थी। वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दया याचिकाएं भी खारिज कर दी थी।

    इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के एक बेंच ने पवन गुप्ता की दलील को खारिज कर दिया कि उनकी दया याचिका को 2012 में अपराध के वक्त वो नाबालिग था। कोर्ट ने कहा कि इस अदालत का लगातार मानना ​​है कि दया याचिकाओं में राष्ट्रपति के फैसले की समीक्षा की गुंजाइश बहुत सीमित है।

    तो वहीं केंद्र और दिल्ली पुलिस की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने पवन गुप्ता की किशोर दलील पर आपत्ति जताई और कहा कि इससे पहले सभी अदालतों ने निपटा दिया था। कोर्ट ने मौत की सजा के दोषी पवन गुप्ता की ओर से पेश वकील की याचिका पर भी विचार नहीं किया कि उनकी सजा को एक या दो दिन के लिए टाल दिया जाए, ताकि वह मारपीट के मामले में अपना बयान दर्ज करा सकें।

    आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 5 मार्च को ट्रायल कोर्ट ने मामले के सभी दोषियों मुकेश सिंह, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय सिंह को 20 मार्च को फांसी दी जाएगी। ये चौथा डेथ वारंट था। सुबह 5.30 बजे फांसी की सजा सुनाई। 16-17 दिसंबर 2012 की रात को धौला कुंआ के पास चलती बस में 6 लोगों ने एक मेडिकल छात्रा के साथ गैंगरेप किया था। इसके बाद वो उन्हें सड़क पर फेंक कर चले गए। साल 2013 में ही ट्राइल कोर्ट ने फांसी की सजा दे दी थी।

    और भी...